उज्जैन के युवाओं का आइडिया बनाएगा उन्हें बिजनेसमैन

नव वर्ष में ही मिल सकेगी युवाओं को इक्युबेशन स्पेस की सुविधा, स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत तैयार हो रहे सेंटर का कार्य जारी, सौगात के लिए तीन महीने और करना पड़ेगा इंतजार

उज्जैन. युवाओं के आइडिया को बिजनेस का रूप देने के लिए स्मार्ट सिटी योजना में तैयार हो रहे इक्युबेशन स्पेस (सेंटर)की शुरुआत का इंतजार खत्म नहीं हुआ है। करीब आठ महीने से सेंटर निर्माण का कार्य जारी है। शहर को इसकी सौगात मिलने के लिए कम से कम तीन महीने और इंतजार करना पड़ सकता है। एेसे में वर्ष 2021 में ही सेंटर प्रांरभ हो सकेगा।

कोठी रोड मेला कार्यालय की दूसरी मंजिल पर इक्युबेशन सेंटर का निर्माण किया जा रहा है। भवन का सिविल कार्य लगभग पूरा हो चुका है और अभी इंटीरियर वर्क जारी है। निर्माण एजेंसी को मार्च-2021 तक कार्य पूरा करना है लेकिन स्मार्ट सिटी कंपनी फरवरी तक इसे शुरू करने के प्रयास में है। इक्युबेशन स्पेस बनने के बाद शहर व आसपास के युवाओं को इसका बड़ा फायदा मिलेगा।

स्टार्टअप में मिलेगी मदद

इक्युबेशन स्पेस के जरिए युवाओं को उद्यमी बनाने के लिए स्टार्टअप की पहल की जा रही है। यह सेंटर एेसा स्थान होगा जहां युवाओं को अपने आइडियाज को बिजनेस का रूप देने का अवसर मिलेगा। इसके लिए उन्हें आवश्यक वातावरण व सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। फर्नीचर के साथ ऑफिस की सुविधामेला कार्यालय की दूसरी मंजिल पर करीब 12 हजार वर्गफीट क्षेत्र में लगभग एक करोड़ रुपए की लागत से निर्माण किया जा रहा है। नए निर्माण का अधिकांश भाग एक्युबेशन सेंटर के लिए उपयोग होगा। बिजनेस शुरू करने की चाह रखने वालों की पहली जरूतर बैठक व्यवस्था या ऑफिस की होती है। इक्युबेशन सेंटर में युवाओं की यह जरूरत पूरी होगी। सेंटर में इंटीरियर, आकर्षक फर्नीचर, वातानुकलित हॉल, मीटिंग रूम, वर्र्किंग डेस्क के आदि उपलब्ध रहेंगे जिनका युवा उपयोगकर सकेंगे।

युवाओं को यह मिलेगा लाभ

- कई शिक्षित युवा एेसे होते हैं जिनके पास नए आइडियाज तो होते हैं लेकिन सही मार्गदर्शन, कंपनी बनाने का ज्ञान, आवश्यक फंड की कमी के कारण वह अपनी योजनओं को साकार नहीं कर पाते हैं। सेंटर उनके लिए प्लेटफार्म का काम करेगा।

- विषय विशेषज्ञों से मार्ग दर्शन मिलेगा।

- कम्प्यूटर, इंटर नेट, ऑफिस आदि की अस्थायी सुविधा मिलेगी ताकि वे अपनी कंपनी या बिजनेस की शुरुआत कर सके्र

- आवश्यक डाक्यूमेंट तैयार करने में सहयोग, सीए व सीएस की सर्विस भी मिल सकती है।

-आवश्यक राशि या लोन को लेकर भी गाइडेंस किया जाएगा।

चयन के आधार पर मिलेगी सुविधा

इक्युबेशन स्पेस का लाभ चयनित युवाओं को मिलेगा। सेंटर का संचालन करने वाली कंपनी इच्छुक युवाओं के आइडियाज, उनकी उपयोगिता, सफलता की संभावना, कार्य क्षमता आदि के आधार पर चयन करेगी। इसके बाद चयनित युवाओं को स्वयं का बिजनेस शुरू करने या कंपनी प्रारंभ करने के लिए हर संभव मदद करेगी।

इनका कहना

स्मार्ट सिटी अंतर्गत इक्युबेशन स्पेस स्थापित किया जाना है। भवन निर्माण का कार्य जारी है। प्रयास है कि फरवरी 2021 में सेंटर प्रारंभ कर दिया जाए।
- प्रदीप जैन, सीइओ स्मार्ट सिटी कंपन

aashish saxena Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned