जिस ट्रैक्टर पर सवार था, वही बन गया मौत का कारण...

स्पीड ब्रेकर पर वह असंतुलित होकर गिरा, उसके ऊपर से ट्रैक्टर का पहिया गुजर गया।

By: Lalit Saxena

Published: 16 May 2018, 07:06 PM IST

नागदा. जिस टै्रक्टर में सवार होकर वह अपने घर लौट रहा था, उसी के नीचे आकर उसकी मौत हो गई। एक मजदूर की मंगलवार दोपहर ट्रैक्टर से गिरने से मौत हो गई। युवक जितेंद्र पिता दिनेश (२१) निवासी गांव रुपाखेड़ी टै्रक्टर में सवार होकर गांव बनबना से अपने गांव लौट रहा था, तभी स्पीड ब्रेकर पर वह असंतुलित होकर गिरा, उसके ऊपर से ट्रैक्टर का पहिया गुजर गया।

पिछले पहिए में दब गया मजदूर
घटना मंगलवार दोपहर 1.30 बजे की है। गांव धुमाहेड़ा में स्पीड ब्रेकर पर टै्रक्टर अंसुतिलत हो गया, जिससे मजदूर नीचे गिर गया और उसी टै्रक्टर के पिछले पहिए में दब गया, जिससे युवक को घायल अवस्था में जनसेवा चिकित्सालय लाया गया। जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। शासकीय अस्पताल में मृतक का पीएम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया।

जीरो पर प्रकरण दर्ज
मंडी पुलिस ने जीरो पर प्रकरण दर्ज कर मामला उन्हेल थाना रैफर किया है। उन्हेल पुलिस की लापरवाही के चलते मृतक का पीएम शाम को हुआ है। उन्हेल पुलिस को सूचना मिलने के बाद भी वह नागदा नहीं पहुंची। जिससे मृतक का पीएम देरी से हो पाया। मिली जानकारी के अनुसार मृतक ईंट भट्टे पर मजदूरी करता था और गांव बनबना में ईंट का टै्रक्टर खाली करने आया था। रवाना होते समय से गांव धुमाहेड़ा में समस्त मजदूर उतरे और पानी के पाऊच खरीदकर पुन: टै्रक्टर में चढ़ गए। मृतक जितेंद्र पानी पीने लग गया और इसी दौरान स्पीड ब्रेकर पर झटका लगने से गिर गया। वह टै्रक्टर के पीछे के पहिए की चपेट में आ जिससे मौत हो गई।

दो मंजिला जर्जर भवन को ७ दिन में हटाने का नोटिस
उज्जैन. तीन बत्ती चौराहा के पास मुख्य मार्ग स्थित एक दो मंजिला जर्जर भवन को हटाने नगर निगम जोन ४ ने मंगलवार को नोटिस चस्पा किया। जिसमें कहां गया है की ७ दिनों में उक्त भवन को हटा लें, अन्यथा निगम गैंग के जरीए इसे जमीदोंज कर दिया जाएगा, इसकी समस्त जवाबदारी भवन स्वामी की होगी। प्रकाश नगर के भवन क्रमांक १५१ व १५१-१ पर स्थित ये भवन पूर्व जोन अध्यक्ष राजेश जारवाल पिता मांगीलाल जारवाल का है। इंदौर में जर्जर होटल घिरने की घटना के बाद निगम ने सभी जोन अंतर्गत एेसे भवनों को चिन्हित किया है, जिन्हें हटाने की कार्रवाई जारी है।

Show More
Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned