ये ऐसा विरोध... जेसीबी के सामने आ गए रहवासी

ये ऐसा विरोध... जेसीबी के सामने आ गए रहवासी
police,Ujjain,against,municipality,Resident,nagda,JCB,

Mukesh Malavat | Updated: 14 Jun 2019, 02:02:01 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

प्रस्तावित उद्यान की भूमि पर अपना कब्जा बताने वाले लोगों ने अधिकारियों को सीमांकन करने से रोका

नागदा. नगर पालिका परिषद द्वारा स्टेट हाइव-17 स्थित कस्तूरबा कन्या छात्रावास के समीप बनाए जा रहे गार्डन को लेकर फिर बखेड़ा खड़ा हो गया। गुरुवार को जमीन पर कब्जा करने पहुंचे राजस्व व नपा की टीम को रहवासियों के विरोध का सामना करना पड़ा। विरोध इतना हुआ कि जमीनों पर अपना कब्जा बताने वाले लोगों ने अधिकारियों को खूब खरी खोटी सुनाई और जेसीबी के आगे खड़े हो गए। 2 घंटे तक चली मशक्कत के बाद शासकीय अमला बिना कब्जा किए बैरंग लौट गया।
विरोध में उतरे लोगों के आगे पुलिस प्रशासन भी बेबस नजर आया। बता दें कि नपा द्वारा अमृत योजना अंतर्गत एक उद्यान का निर्माण किया जाना है, जिसके लिए नपा ने पाड़ल्या कला में कस्तूरबा छात्रावास के समीप शासकीय गोचर भूमि को प्रस्तावित किया था, जिसका सर्वे क्रमाक 294 है। प्रस्तावित भूमि के दोनों तरफ खेत है। समीप में नाथ योगी समाज का शमशाम घाट है। शासकीय भूमि होने पर राजस्व विभाग ने यह जमीन नपा प्रशासन को दे दी है। गुरुवार को राजस्व विभाग नपा को कब्जा दिलाने पहुंचा था। लोगों का कहना था कि प्रशासन शासकीय भूमि के साथ-साथ उनकी निजी जमीन भी अधिग्रहण कर रहा है। इस दौरान प्रशासन का कहना था कि लोगों ने शासकीय जमीन पर खेत कर रहे व मकान भी बना लिए है, जबकि उक्त भूमि की तीन बार नपती की जा चुकी है, लेकिन उस वक्त इतना विरोध नहीं हुआ था। गुरुवार को तो हद हो गई जमीन पर कब्जा बताने वाले लोगोंं ने जमीन का सीमांकन करने पहुंचे अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाते हुए सीमांकन की कार्रवाई को पूर्ण नहीं करने दिया। अंत में अधिकारी पंचनामा बनाकर लौट गए।
नपा कर्मचारियों से की बदसूलकी
अतिक्रमण हटाने पहुंची नपा, राजस्व की टीम के सामने लगभग एक दर्जन लोग खड़े हो गए, इनमें 7 से 8 महिलाएं थी। प्रशासन ने जैसे ही जेसीबी अतिक्रमण हटाने के लिए बढ़ाई वैसे ही बच्चे जेसीबी के आगे सो गए और महिलाए पत्थर लेकर खड़ी हो गई। इस दौरान महिलाओं ने पटवारी को खूब खरी खोटी भी सुनाई। पहले तो पुलिस प्रशासन बल पूर्वक विरोधकर्ताओं हो हटाने की कोशिश की और महिलाएं और उग्र हो गई, जिससे पुलिस प्रशासन भी पीछे हट गया। विरोधकर्ताओं को हटाने के लिए कुछ नपा कर्मचारी भी आगे आए तो उनकी भी महिलाओं ने कॉलर पकड़ ली, जिसके बाद पटवारी अनिल शर्मा ने तहसीलदार राजाराम करजरे से फोन पर चर्चा की। करजरे ने एक बार पुन: नपती कराने का हवाला दिया। कार्रवाई के दौरान नपा उपयंत्री शाहिद मिर्जा, आबीद अली, अशोक परमार, पवन भाटी, महेंद्र गुर्जर व राजस्व विभाग से सुरेश आदि मौजूद थे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned