लगातार बारिश के कारण दो हिस्सों में बंट गया यह शहर

लगातार बारिश के कारण दो हिस्सों में बंट गया यह शहर
बाढ़ की संभावना को देखते हुए नगर पालिका ने दिए निचली बस्ती खाली करने के निर्देश

Mukesh Malavat | Updated: 14 Sep 2019, 08:02:02 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

बाढ़ की संभावना को देखते हुए नगर पालिका ने दिए निचली बस्ती खाली करने के निर्देश

शाजापुर. शहर सहित शाजापुर भर में पिछले 4-5 दिनों से हो रही लगातार बारिश के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई ग्रामीण क्षेत्रों का संपर्क जिला मुख्यालय से टूटा हुआ है। इधर दूसरी ओर शहर के बीच से निकली चीलर नदी में भी पानी लगातार बढ़ता जा रहा है और नदी से सटे इलाकों में बाढ़ के हालात बनने लगे है। चीलर नदी के उफान पर होने से शहर दो हिस्सों में बंटा हुआ है। महुपुरा रपट से शुक्रवार को तीन फीट से ज्यादा पानी होने के कारण इससे आवागमन पूर्ण रूप से बंद रहा। चीलर नदी के बढ़ते पानी को देखते हुए जिला प्रशासन ने निचली बस्तियों को खाली कराने की निर्देश दिए हैं। प्रशासन ने बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए कम्युनिटी हॉल सहित आसपास के शासकीय विद्यालयों में ठहरने की व्यवस्था कराई है।
गौरतलब है शहर में अब तक बारिश का आंकड़ा 60 इंच के करीब पहुंच गया है। इसके बाद भी बारिश का दौर नहीं थमा है। पिछले 24 घंटे में शुक्रवार शाम 5 बजे तक शहर में 55 एमएम बारिश हो चुकी है। लगातार बारिश के कारण चीलर नदी महुपुरा रपट से खासी उपर से बह रही है। तेज पानी का बहाव होने के कारण यहां से आवागमन होना संभव नहीं है। स्थानीय प्रशासन ने नदी के दोनों किनारों पर बैरिकेड्स लगाकर यातायात को रोक दिया है। सुबह से कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश का दौर चलता रहा। हालांकि शाम को बारिश थम गई, लेकिन रात करीब साढ़े 8 बजे से फिर तेज बारिश शुरू हो गई। इधर चीलर नदी का पानी अब कुम्हारवाड़ा घाटी को भी पार कर चुका है। जो यहां रहने वाले लोगों के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है। यही वजह है कि शुक्रवार शाम को नगर पालिका ने शहर में मुनादी करवाकर लोगों को सचेत रहने की अपील की। साथ ही हालात बिगडऩे पर उनके लिए ठहरने के लिए तय किए गए स्थानों की भी जानकारी दी। नगर पालिका सीएमओ भूपेंद्रकुमार दीक्षित ने बताया कि अभी हालात नियंत्रण में हैं, लेकिन मौसम विभाग से मिल रही जानकारी और अलर्ट को देखते हुए एहतियात बरती जा रही है ताकि शहर में हालात न बिगड़े।
दोनों छोर के रहवासियों के लिए अलग-अलग की ठहरने की व्यवस्था : नगर पालिका ने शहर में मुनादी करवाकर रपट से इस ओर की निचली बस्तियों में पानी के प्रवेश कर जाने पर चीलर नदी से सटे मालीवाड़ा, सपरीपुरा, कसाईवाड़ा के क्षेत्र के रहवासियों से सतर्क रहने की अपील की है। साथ ही उन्हें बताया कि यदि नदी में पानी बढऩे पर बाढ़ के हालात बने तो यहां के सभी लोगों को शासकीय गल्र्स हायर सेकंडरी स्कूल में ठहरने की व्यवस्था की जाएगी। इसके साथ ही महुपुरा के निचले क्षेत्र और डांसी के रहवासियों के लिए नपा कार्यालय के पास स्थित कम्यूनिटी हॉल में ठहरने की व्यवस्था की गई है।
दो मकानों की दीवारें धराशायी, नहीं हुई जनहानि
जिला मुख्यालय ही नहीं बल्कि आसपास के क्षेत्रों में भी बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। लगातार बारिश के कारण जिला मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर ग्राम हरणगांव में एक मकान जमींदोज हो गया। वहीं शहर के नयापुरा स्थित एक महिला के कच्चे मकान की दीवार ढह गई। गनीमत रही कि इन दोनों हादसों में कोई जनहानि नहीं हुई। वहीं अब लोग बारिश थमने की कामना कर रहे हैं, क्योंकि धूप न निकलने और बारिश जारी रहने से फसलों की हालत खराब हो चुकी है।
उफनते नाले में बह गया युवक
जिले के मोहन बड़ोदिया विकासखंड के ग्राम हरियाणी में एक युवक उफनते हुए नाले में बह गया। बताया जाता है कि यह घटना चौमा-शाजापुर मार्ग कि है जब उक्त युवक अपने गांव आने के लिए उफनता हुआ नाला पार कर रहा था तभी यह हादसा हो गया। युवक नाले में काफी दूर तक बह गया, लेकिन ग्रामीणों ने समय रहते उसे पानी से निकाल लिया। ग्रामीणों के अनुसार यदि थोड़ी सी और देर हो जाती तो युवक की जान जा सकती थी।
सामान्य से करीब 15 इंच अधिक हो चुकी है बारिश
शाजापुर जिले में चालू वर्षाकाल में अब तक 136 0.6 एमएम औसत वर्षा दर्ज हुई है। जबकि जिले की औसत वर्षा 990.1 एमएम है। इस प्रकार जिले में औसत वर्षा की तुलना में अब तक 370.5 एमएम वर्षा अधिक हुई है। चालू वर्षाकाल में अब तक सर्वाधिक वर्षा तहसील शाजापुर में 1523.8 एमएम हुई है। इसी तरह मो. बड़ोदिया में 1346 एमएम, शुजालपुर में 1309 एमएम, कालापीपल में 1320 एमएम एवं गुलाना में 1304 एमएम वर्षा दर्ज हुई है। यदि पिछले 24 घंटो की बात कि जाए तो शुक्रवार सुबह 8 बजे तक शाजापुर में 8 1.2 एमएम, मो. बड़ोदिया में 37 एमएम, शुजालपुर में 76 एमएम, कालापीपल में 49 एमएम एवं गुलाना में 39 एमएम बारिश हुई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned