नगर पालिका के इस नोटिस से दुकानदारों में मच गया हडक़ंप

नगर पालिका के इस नोटिस से दुकानदारों में मच गया हडक़ंप
notice,Ujjain,municipality,nagda,shake,shopkeepers,

Mukesh Malavat | Publish: Jul, 17 2019 08:02:02 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

एक दर्जन से ज्यादा दुकानदारों ने सीएमओ से मुलाकात कर अपनी बात रखी

नागदा. महात्मा गांधी मार्ग स्थित मेहता मार्केट के एक दर्जन से ज्यादा दुकानदारों ने मंगलवार को नगर पालिका कार्यालय पहुंच कर सीएमओ सतीश मटसेनिया से मुलाकात कर अपनी बात को रखा है। दरअसल पिछले दिनों जवाहर मार्ग पर तीन मंजिला मकान की छत ढह जाने से दो लोगों की मौत हो गई थी। शहर में दोबारा इस तरह का हादसा नहीं हो इसके लिए नगर पालिका प्रशासन ने शहर के 100 से ज्यादा पुराने एवं जर्जर मकानों को तोडऩे के नोटिस जारी कर रखे हैं। जर्जर मकानों की सूची में करीब 70 वर्ष पुराना मेहता मार्केट भी शामील है। मार्केट के दोनों साइड में करीब 28 दुकानों के साथ एक लॉज का भी संचालन किया जाता है। नगर पालिका प्रशासन का मानना है कि दिन के समय मार्केट में 200 से ज्यादा लोगों की मौजूदगी रहती है। ऐसे में हादसा हुआ तो बड़ी जनहानी संभव है। इसी आशंका को देखते हुए सीएमओ सतीश मटसेनिया ने मेहता मार्केट के मालिक एवं दुकानदारों को अंतिम नोटिस देकर 24 घंटे के भीतर दुकान खाली करने का अल्टिमेटम दिया था। सीएमओ के इस अल्टीमेटम के बाद मार्केट के दुकानदारो में हडक़ंप मच गया और मंगलवार को करीब एक दर्जन दुकानदारों ने नपा कार्यालय पहुंच कर सीएमओ के समक्ष अपनी बात को रखा। दुकानदारों का कहना है कि मार्केट की गेलरी वाला हिस्सा ही जर्जर हो रहा है। शेष मार्केट वाला हिस्सा पूरी तरह से सुरक्षित है। दुकानदारों का यह भी कहना था कि मार्केट में जो भी दुकानदार है वह वर्षों पुराने है। भवन मालिक दुकानों को खाली करवाना चाहता है। दुकानदारों ने दुकान खाली करने से मना कर दिया तो अब वह बिल्ंिडग को जर्जर बताकर नपा प्रशासन के माध्यम से दुकानें खाली कराने की साजिश कर रहा है।
सीएमओ ने भवन का परीक्षण कर मांगी रिपोर्ट
दुकानदारों के सीएमओ से मुलाकात के बाद फिलहाल मेहता मार्केट की दुकानों का खाली कराने का मामला टल गया है। कारण सीएमओ ने भवन की वास्तविक स्थिति जानने के लिए सहायक यंत्री शाहिद मिर्जा से भवन का परीक्षण कर रिपोर्ट देने को कहा है ताकि यह पता लगाया जा सके कि उक्त भवन किस स्थिति में है। रिपोर्ट में यदि भवन को जर्जर होने या हादसे की आशंका जताई जाती है तभी नपा द्वारा तोडऩे की कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned