यह कार्य नहीं हुआ पूरा तो खाली रह जाएगा यह तालाब

यह कार्य नहीं हुआ पूरा तो खाली रह जाएगा यह तालाब
Ujjain,pond,municipality,nagda,Catchment area,line pipe,

Mukesh Malavat | Publish: May, 17 2019 08:03:03 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

मामला उत्कृष्ट इंगोरिया रोड स्थित कैचमेंट एरिया में किए गड्ढों का

नागदा. शहरवासियों की सुविधा के लिए बनकर तैयार हुई उत्कृष्ट इंगोरिया सडक़ बनबना तालाब के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। कारण बनबना तालाब के कैचमेंट एरिया (वह स्थान जहां से बारिश का पानी जलस्त्रोत तक जाता है) में खोदकर छोड़े गए गड्ढे है। गड्ढे नगर पालिका की अगुवाई में पाइप लाइन डालने वाली कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा किया गया है। बताया जा रहा है कि अंजनी नगर में इन दिनों पेयजल लाइन वितरण का कार्य किया जा रहा है, जिसके लिए इंगोरिया पर कई स्थानों पर पाइप लाइन टेस्टींग के लिए पाइप के ज्वाइंट वाले भाग पर गड्ढे किए गए है।
क्या है परेशानी
परेशानी यह है कि बनबना तालाब का कैचमेंट एरिया नगर पालिका निसर्ग उद्यान का पिछला हिस्सा व उत्कृष्ट इंगोरिया रोड का पिछला हिस्सा आता है। सडक़ निर्माण के दौरान भी ड्रेनेज लाइनों को ठीक प्रकार से नहीं दिए जाने व सडक़ का ढलाव ठीक प्रकार से नहीं दिए जाने के कारण बनबना तालाब में नाममात्र का बारिश का जल संचित हो पाता है। ऐसे में यदि प्री-मानसून तक गड्ढों को भरी नहीं गया तो एक बड़ा हिस्सा बारिश के जल का बनबना तालाब तक पहुंचने से रूक जाएगा।
कार्य में तेजी नहीं तो होगी परेशानी
शहर में इन दिनों नवीन पेयजल लाइन का कार्यप्रगति पर है। लाइनों का वितरण करने वाली कंपनी द्वारा कार्य को धीमी गति से किया जा रहा है। इंगोरिया रोड ही नहीं शहर के दर्जनों हिस्सों में कंपनी द्वारा गड्ढा खोदकर छोड़ दिया गया है। ऐसे में बारिश के दौरान खुले पड़े गड्ढे आम नागरिकों को परेशान कर सकते हैं।
इनका कहना
फिलहाल मतदान ड्यूटी की व्यवस्थताएं है। मार्ग पर यदि आपके द्वारा बताए गए गड्ढों की स्थिति है, तो संबंधित अधिकारियों को दिखवाकर परेशानी को हल करवाया जाएगा। सतीश मटसेनिया, सीएमओ,नपा
----------
सफाई कर्मचारियों एवं वाहन चालकों को चुनावी ड्यूटी पर भेजा
नागदा. शहर की सफाई व्यवस्था अगले चार दिनों तक चरमराने वाली है। कारण नागदा नगर पालिका के 100 से ज्यादा सफाईकर्मी एवं वाहन चालक जिनकी संख्या करीब 40 है सभी को चुनावी ड्यूटी पर भेज दिया है। यह पहला अवसर है कि किसी भी चुनाव में नपा के कर्मचारियों एवं अधिकारियों के अलावा सफाई कर्मचारी व वाहन चालकों की भी ड्यूटी लगाई गई है। नपा के पास करीब 350 सफाई कर्मचारी हैं, जिसमें से 100 से अधिक कर्मचारियों को चुनावी ड्यूटी पर लगा दिए जाने से शहर की सफाई व्यवस्था चरमरा जाने की संभावना बन गई हैं। खास बात यह है कि इनके अलावा नगर निकाय के करीब 40 वाहन चालकों को भी चुनाव में अलग-अलग दायित्व सौंपा है।
अगले चार दिनों तक न तो शहर के किसी गली में घरों से कचरा एकत्रित करने वाली कचरा गाड़ी दिखेगी और ना ही उन क्षेत्रों में पानी की सप्लाई की जाएगी, जहां की जलापूर्ति टैंकरों के माध्यम से की जाती है। ड्यूटी पर लगाए गए सभी कर्मचारियों की गुरुवार शाम को नपा सभागृह में बैठक लेकर उन्हे उनके दायित्वों की जानकारी दी गई। मिली जानकारी के मुताबिक ज्यादातर कर्मचारियों की ड्यूटी शहर के बाहर लगाई गई है। इनमें से कई को विशेष पुलिस अधिकारी का बनाकर भेजा जा रहा है। यह कर्मचारी मतदान दलों के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे।
नपा के करीब 150 कर्मचारियों को चुनावी ड्यूटी में लगाया गया है। इनमें 100 से ज्यादा सफाईकर्मी और करीब 50 वाहन शाखा के कर्मचारी हैं। चुनाव सपन्न होने तक शहर की सफाई एवं टैंकर से पानी सप्लाई की व्यवस्था को दुरुस्त रखने के प्रयास किए जाएंगे।
सतीश मटसेनिया, सीएमओ, नपा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned