महाकाल में उमा सांझी महोत्सव, जयघोष के साथ शिव वंदना

महाकाल में उमा सांझी महोत्सव, जयघोष के साथ शिव वंदना
Uma-Sanjhi Festival Celebration In Mahakal Temple

Lalit Saxena | Publish: Sep, 27 2016 10:25:00 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

महाकाल मंदिर में उमा सांझी महोत्सव का शुभारंभ हुआ। मां पार्वती की घट स्थापना, वंसत पूजा की। रंगोली मांडकर महल बनाया। साथ ही माताजी का शेषनाग पर विराजित कर पूजन किया।

उज्जैन. महाकाल मंदिर में सोमवार को उमा सांझी महोत्सव का शुभारंभ हुआ। सुबह 10.15 बजे सभामंडप में 21 ब्राह्मणों ने मां पार्वती की घट स्थापना की। इसके बाद मंदिर के प्रभारी प्रशासक रजनीश कसेरा ने पूजन किया। शासकीय पुजारी पं. घनश्याम शर्मा के आचार्यत्व में सभी ब्राह्मणों ने सभामंडप में वंसत पूजा की। 

पुजारी-पुरोहितों ने सभा मंडप में उमा माता का रंगोली मांडकर महल बनाया। इसके साथ ही माताजी का शेषनाग पर विराजित कर पूजन किया गया। 




प्रस्तुति से समा बांधा
अश्विन कृष्ण एकादशी से अश्विन शुक्ल द्वितीया तक मनाए जाने वाले उत्सव की शुरुआत संध्याकाल में संगीत और नृत्य से हुई। मंदिर प्रांगण में शहर के विशाल शिंदे ने एकल तबला की प्रस्तुति से समा बांधा। इसके बाद महाकाल का आंगन में निमाड़ी मालवी लोक गीत से गुंजायमान हुआ। 

जयघोष के साथ शिव वंदना
देवास की कमला बाई भूरिया कई सारे निमाड़ी मालवी लोकगीत की प्रस्तुति दी। उत्सव की आखिरी संध्या में प्रतिभा रघुवंशी ने रुद्र रुद्र महारुद्र के जयघोष के साथ शिव वंदना की प्रस्तुति दी। इसके साथ ही रघुवंशी ने एकल कथक की प्रस्तुति दी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned