scriptUnique case of Corona in Ujjain, pregnant got infected | उज्जैन में कोरेाना का अनूठा मामला, गर्भवती संक्रमित हो गई फिर जानिए कैसे हुई डिलेवरी | Patrika News

उज्जैन में कोरेाना का अनूठा मामला, गर्भवती संक्रमित हो गई फिर जानिए कैसे हुई डिलेवरी

हॉस्पिटल स्टॉफ ने दिखाया सेवा का जज्बा, वरिष्ठों से लिया मार्गदर्शन और फिर कोविड प्रोटोकॉल के साथ करवाया सामान्य् प्रसव

उज्जैन

Published: January 16, 2022 10:40:51 pm

उज्जैन. कोरोना संक्रमित प्रसूता ने रविवार को उन्हैल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर स्वस्थ्य शिशु को जन्म दिया। महिला प्रसव के कुछ दिन पूर्व ही कोरोना संक्रमित पाई गई थी जिसक बार परिजनों की भी चिंता बढ़ गई थी। एेसे समय उन्हेल स्वास्थ्य केंद्र के स्टॉफ ने चिकित्सा सेवा का जज्बा दिखाया और कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए नार्मल डिलेवरी करवाई।

Unique case of Corona in Ujjain, pregnant got infected
हॉस्पिटल स्टॉफ ने दिखाया सेवा का जज्बा, वरिष्ठों से लिया मार्गदर्शन और फिर कोविड प्रोटोकॉल के साथ करवाया सामान्य् प्रसव

उन्हेल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कुछ दिन पूर्व एक गर्भवति महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। महिला के संक्रमित होने पर परिजनों की भी चिंता बढ़ गई थी। ऐसे में उन्होंने नगरपालिका कर्मचारी के मदद से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उन्हेल पर संपर्क किया। इसके बाद अस्पताल स्टॉफ ने आरआरटी नोडल अधिकारी डॉ. रोकन एलची व ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर कमल सोलंकी से परामर्श लिया। स्टाफ ने कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए महिला का सुरक्षित प्रसव कराया। शाम 5.30 बजे महिला ने स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। महिला के परिजन बहुत खुश हैं कि उन्हें इस मुश्किल घड़ी में अन्यत्र कहीं बाहर नहीं जाना पड़ा और हॉस्पिटल स्टाफ के द्वारा उन्हें बहुत अच्छी सेवाएं दीं। संभवत: यह जिले का पहला मामला है जब कोरोना संक्रमित महिला ने शिशु को जन्म दिया है। हॉस्पिटल स्टाफ में स्टाफ नर्स आरती, नीलम, नीलमणि बेंजामिन, रीना, रवि व बीएल सोनी का विशेष सहयोग रहा।

पीपीइ किट पहन करवाई डिलेवरी

गर्भवति कोरोना संक्रमित है, एेसे में अस्पताल स्टॉफ के सामने भी डिलेवरी करवाना बड़ी चुनौती थी। एेसे समय उन्होंने वरिष्ठों से मार्गदर्शन तो लिया ही, अपने फर्ज को भी सबसे ऊपर रखा। स्टॉफ ने पीपीई किट पहन व कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन करते हुए महिला का सामान्य प्रसव करवाया। प्रसूती का यह अपने आप में अनूठा मामला है जिसमें मेडिकल स्टॉफ की महत्वपूर्ण भूमिका देखने को मिली है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.