यह क्या...उज्जैन में भाजपा नेताओं ने छीन लिया युवक का कुत्ता

एक युवक ने एसपी अतुलकर शिकायत में कहा डॉग मेरा पारिवारिक सदस्य है, वे लोग उसे मारने की धमकी दे रहे, भाजपा नेताओं के नाम आने पर शाम को किया समझौता

By: anil mukati

Published: 27 Nov 2019, 08:01 AM IST

उज्जैन. पीजीबीटी कॉलेज कैंपस में रहने वाले एक युवक ने एसपी सचिन अतुलकर को एक शिकायती पत्र लिखकर उसके घर से कुछ युवकों द्वारा छीनकर ले गए पालतू कुत्ते को दिलाने की मांग की है। युवक का कहना है कि भाजपा से जुड़े लोग उसके घर आए और कुत्ता छीनकर ले गए और अब वे उसे मारने की धमकी भी दे रहे हैं। हालांकि मामले में भाजपा नेताओं के नाम आने पर युवक ने शाम को समझौता भी कर लिया और कुत्ता वापस मिलने की बात कही।
एसपी को शिकायती पत्र पीजीबीटी कॉलेज कैंपस में रहने वाले हर्ष पिता अभिमन्यु पाटिल ने लिखा है। हर्ष ने बताया कि १८ नवंबर को उसके घर पर मितेश नामोतिया, योगेश सांगते व सौरग गौसर घर आए। इन्होंने फ्रेंच मस्टिक डॉग मुझे दिया और कहा कि कुछ दिनों के लिए रख ले। मैंने उन्हें मना किया लेकिन जबर्दस्ती दे गए। बाद यह कुत्ता मेरे घर के बाड़े से कहीं चला गया। इसकी जानकारी भी मैंने मितेश नामोतिया को दे दी थी। इसके बाद तीनों मेरे घर पर आए और मेरे पालतू डॉग बुलमस्तिफ को जबर्दस्ती छीनकर ले गए। इन्होंने कहा कि अब यह हमारे पास रहेगा, हम चाहे इसे मार दें लेकिन तुम्हें नहीं देेंगे। हर्ष का कहना है कि उसका पालतू डॉग पारिवारिक सदस्य की तरह है। वहीं इसे ले जाने वाले राजनीतिक संगठन से जुड़े हैं। इसमें योगेश सांगते भारतीय जनता युवा मोर्चा का नगर महामंत्री है। हर्ष ने इन लोगों से जान का खतरा भी बताते हुए अपना पालतू डॉग दिलवाने की मांग की है। हालांकि शाम को यह शिकायती पत्र की जानकारी लगने पर इनके बीच समझौता हो गया। जिसमें हर्ष ने लिख कर दिया है कि युवकों ने उसका कुत्ता वापस कर दिया है। वहीं युवा मोर्चा सांगते का नाम इस डर से लिख दिया कि वह अन्य युवकों की मदद करेंगे। वहीं सांगते का कहना है कि दोनों युवक युवा मोर्चा के मंडल से जुड़े होकर कार्यकता है। हर्ष ने यह सोचकर मेरा नाम लिखा दिया कि मैं इनकी मदद करुंगा। उससे बात होने के बाद मामले का निपटारा हो गया। इधर, शिकायतकर्ता हर्ष पाटिल से इस संबंध में फोन लगाया तो उन्हेांने रीसिव नहीं किया।

BJP
Show More
anil mukati Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned