छात्रसंघ चुनाव जीती छात्राओं से कैसी-कैसी मांग कर है विद्यार्थी

विवि फॉर्मेसी संस्थान में एनएसयूआई से जीती छात्रा, चुनाव में हारे विद्यार्थी गुट कस रहे फब्तियां

By: Gopal Bajpai

Published: 12 Nov 2017, 12:52 PM IST

उज्जैन. विक्रम विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव के बाद विद्यार्थियों को विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। वग्गदेवी भवन में संचालित विभागों में एनएसयूआई और एबीवीपी के कार्यकर्ता कई बार आमने-समाने हो चुके है। इसी के साथ अब फार्मेसी संस्थान में चुनाव जीती छात्राओं के साथ छेडख़ानी की शिकायत सामने आई। संस्थान में चार कक्षा प्रतिनिधि के पद पर तीन पर एनएसयूआई और एक पर एबीवीपी की जीत हुई। अब हारे हुए विद्यार्थी गुट बनाकर एनएसयूआई की छात्राओं पर फब्तियां कर रहे है। छात्राओं से चुनाव जीतने की बात पर उनकी मांग पूरी करने के लिए कह रहे है। साथ ही छात्राओं से आपत्तिजनक मांग कर रहे है। कोई छात्राओं से शौचालय साफ करने की बात कर रहा है। तो कई उन पर व्यक्तिगत कटाक्ष कर रहा है। मामले को लेकर छात्राओं ने विभागाध्यक्ष से भी शिकायत कर दी है। शिकायत के बाद आरोपी छात्र को बुलाया गया। तो वह चतुर्थ वर्ष का पूर्व छात्र है। शिक्षकों ने उसे अब विभाग आने से मना कर दिया है।

वाणिज्य विभाग में भी विद्यार्थियों में तनातनी
विवि के वाणिज्य विभाग में विद्यार्थियों में तनातनी चल रही है। एबीवीपी का एक गुट जीत के बाद अतिरिक्त प्रभाव दिखाने की कोशिश कर रहा है। विद्यार्थियों के साथ शिक्षकों पर भी रौब झाड़ी जा रही है। इसी विभाग में एनएसयूआई का भी दबदबा है। इसी के चलते दोनो गुट हमेशा आमने-सामने रहते है। एनएसयूआई के कक्षा प्रतिनिधियों के सम्मान कार्यक्रम में विवाद हो गया। नौबत मारपीट तक पहुंच गई। दूसरे फिर एनएसयूआई और एबीवीपी के कार्यकर्ता फिर भिड़ लिए।

पुलिस की भी कैम्पस में नजर
विवि में पुलिस चौकी का असर भी दिखाई दे रहा है। चौकी का स्टाफ दिनभर विद्यार्थियों के बीच में रहता है। इसलिए कैम्पस में विद्यार्थियों को समझाइश देते रहते है। इसी के साथ बदमाशी कर रहे विद्यार्थियों को सीधे हिदायत भी दे देते है। चौकी स्टाफ की सक्रियता भी विवाद को कम रही है।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned