scriptWhy eviction in the name of development? | विकास के नाम पर बेदखली क्यो? | Patrika News

विकास के नाम पर बेदखली क्यो?

महाकाल मंदिर के सामने 150 मकानों के अधिग्रहण के विरोध में लोगों ने दर्ज करवाई आपत्तियां, कलेक्ट्रेट पहुंचे लोगों ने कतारबद्ध होकर आवक-जावक शाखा को सौंपे आवेदन

उज्जैन

Published: December 07, 2021 11:16:57 am

उज्जैन. महाकाल मंदिर विस्तारीकरण योजना के तहत महाकाल मंदिर के सामने 70 मीटर चौड़ीकरण में प्रभावित हो रहे 150 मकान मालिक और उनके किराएदारों ने सोमवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर अपनी आपत्ति जताई। कलेक्टर कार्यालय पर 200 से अधिक की संख्या में पहुंचे लोगों ने कतारबद्ध होकर अपनी आपत्तियां कलेक्टर कार्यालय के आवक-जावक शाखा में जमा करवाई। लोगों का कहना था कि विकास के नाम पर उन्हें क्यों बेदखल किया जा रहा है। आपत्तियां देने में महिला, पुरुषों के साथ बुजुर्ग भी कतार में खड़े थे। इतनी संख्या में लोगों के लाइन में खड़े देख यहां से गुजर रहे लोग भी हतप्रभ रह गए।
घरों के बाहर चस्पा पोस्टर
विकास के नाम पर बेदखली क्यो?
कलेक्ट्रेट पहुंचे लोगों ने कतारबद्ध होकर आवक-जावक शाखा को सौंपे आवेदन
मंदिर के सामने 150 मकान के अधिग्रहण किए जाने का लोग विरोध कर रहे हैं। लोगों ने घरों के सामने पोस्टर चस्पा कर लिखा है कि विकास के नाम पर विंध्वस नहीं। श्री महाकालेश्वर क्षेत्र एवं व्यापारी संगठन विस्तारीकरण का विरोध करता है।
यह आपत्ति जताई
भूमि अधिग्रहण के लिए प्रशासन द्वारा भूमि अर्जन पुर्नवास एवं पुर्नव्यवस्थापन में उचित प्रतिकर एवं पारदर्शिता अधिकार अधिनियम 2013 के अनुसार प्रस्तुत नहीं की गई है।
अधिग्रहण की जो सूचना जारी की गई है वह वैधानिक नहीं होकर निरस्त योग्य हंै।
मंदिर के सामने 11 मकान अधिगृहीत किए जा चुके हैं। मंदिर के आसपास व पीछे की जमीन भी ली जा चुकी है। ऐसे में मंदिर विकास के लिए पूर्व दिशा की जमीन की आवश्यकता नहीं है।
८शासन के पास वर्तमान में जो भूमि उपलब्ध है, वह पर्याप्त है और भीड़ प्रबंधन तथा मूलभूत सुविधाए प्रदान करने के लिए पर्याप्त है।
८ आपत्तिकर्ता इस क्षेत्र में दशकों से रह रहा है। जो मकान अधिगृहीत किए जा रहे हैं वह आय के एकमात्र साधन है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.