पुलिस के इस आचरण के खिलाफ महिलाओं ने घेरा थाना

पुलिस के इस आचरण के खिलाफ महिलाओं ने घेरा थाना

Lalit Saxena | Publish: Sep, 11 2018 11:01:22 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

एएसपी के दखल के बाद आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज

नागदा. बिरलाग्राम पुलिस पर युवती को परेशान करने वाले युवक को बचाए जाने का प्रयास किया जा रहा है। मामले ने सोमवार शाम को उस समय तुल पकड़ लिया जब क्षेत्र की महिलाओं ने पुलिस के इस आचरण के खिलाफ हल्ला बोलते हुए थाने का घेराव कर दिया। हालांकि बाद में एडिशनल एसपी ग्रामीण अंतरसिंह कनेश ने मामले में महिलाओं से चर्चा कर आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया गया, जब मामला शांत हुआ। घटना 4 दिन पूर्व की बताई जा रही है।

यह है मामला
7 सितंबर 2018 को बिरलाग्राम निवासी एक 22 वर्षीय युवती ने पुलिस थाने में पहुंचकर लिखित शिकायत दर्ज करवाई थी कि, उसे मोंटी राठौर नामक युवक द्वारा मोबाइल पर अश्लील मैसेज भेजा जा रहा है। बार-बार फोन कर परेशान किया जा रहा है। युवती पुलिस को यह भी बताया था कि उक्त युवक उसे फोन पर धमकी दे रहा है की अगर उसने युवक की बात नहीं मानी तो वह उसे उठा कर ले जाएगा। लेकिन बिरलाग्राम पुलिस ने शिकायत के तीन दिन बाद कार्रवाई नहीं की गई तो इलाके की महिलाओं ने सोमवार शाम को थाने पहुंचकर घेराव कर दिया। थाने पर जब महिलाएं पहुंची थी। उस समय वहां एडीशनल एसपी कनेश मौजूद थे। पीडि़ता ने पूरी घटना एएसपी को बताई की किस तरह थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों द्वारा परेशान करने वाले युवक पर कार्रवाई करने की बजाए युवती को शिकायत वापस लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। पीडि़ता की शिकायत सुनने के बाद एएसपी कनेश ने आरोपी के खिलाफ तत्काल छेडख़ानी का प्रकरण दर्ज करने के निर्देश दिए गए तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ।

चेन स्नैचिंग मामले में पुलिस ने आरोपियों की पहचान की

चार दिन पूर्व हुए चेन स्नेचिंग मामले में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे है। पुलिस सूत्रों का दावा है कि मामले के सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

बता दें कि बीते गुरुवार की रात को मंदसौर जिला निवासी 60 वर्षीय चेतना पति विजय मेहता अपनी बहन के साथ श्रीराम कालोनी स्थित सांई मंदिर से दर्शन कर घर लौट रही थी। उसी दौरान एक निजी स्कूल के सामने दो बदमाशों ने महिला के गले से सोने की चेन खींचकर दौड़ लगा दी थी।

महिला ने पुलिस को बताया था कि दोनों बदमाश पीछे से पैदल आए और चेन तोड़कर भाग गए। पूरी वारदात स्कूल के बहार लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। लेकिन पुलिस के लिए परेशानी की वजह यह थी की वारदात के दौरान अंधेरा था। जिसके कारण बदमाशों के चेहरे फूटेज में साफ नहीं दिखने के कारण उनकी पहचान करना मुश्किल हो रहा था। लेकिन अब पुलिस के सूत्रों ने दावा किया है कि बदमाशों की पहचान कर ली गई है। और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया जाएगा। घटना के दौरान बदमाशों की संख्या दो से अधिक थी और वारदात में मोटर साइकल का भी उपयोग हुआ है। सभी आरोपी स्थानीय बताए जा रहे है। हालांकि मामले में थाना प्रभारी रवींद्र कुमार ने कहा है कि आरोपियों की तलाश जारी है। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

Ad Block is Banned