किसानों के खाते में आया 11.39 करोड़ रुपए

shivmangal singh

Publish: Apr, 17 2018 05:21:18 PM (IST)

Umaria, Madhya Pradesh, India
किसानों के खाते में आया 11.39 करोड़ रुपए

जिला स्तरीय कृषक सम्मेलन आयोजित

उमरिया. किसान के पसीने की पूरी कीमत किसानों को देने के लिए मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसान सम्मेलन में खरीफ 2017 में धान तथा रबी 2016-17 में गेहूं के उपार्जन पर 200 रूपये प्रति क्विटल प्रोत्साहन के रूप में एक क्लिक के माध्यम से 17 हजार करोड़ रुपये की राशि डाली गई है, जिसका लाईव सीधा प्रसारण जिले के किसानों ने देखा। मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत स्थानीय स्टेडियम ग्राउण्ड में आयोजित कृषक सम्मेलन में जिले के 13033 कृषकों को 11 करोड़ 39 लाख 11104 कृषकों को खरीफ 2017 में धान तथा रबी 2016- 17 के गेहंू उपार्जन मात्रा पर 200 रुपये प्रति क्विटल के मान से राशि खाते में डाली गई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को शून्य प्रतिशत पर ऋण, खाद का अग्रिम भण्डारण कर उन्हें बिना ब्याज के उठाव, प्राकृतिक आपदा में ऐतिहासिक बढोत्तरी 30 हजार प्रति हेक्टेयर राहत राशि के अलावा फसल बीमा योजना का भी पैसा दिया जा रहा है। दो वर्ष पूर्व सूखा पडऩे पर सोयाबीन की फसल नुकसान हुई थी। जिसमें किसानों को 4 हजार 800 करोड़ रुपये वितरित किया गया था। इसी तरह 100-200 रुपये क्वि. बिकने वाली प्याज को सरकार ने पिछले वर्ष 800 रुपये प्रति क्वि. खरीदकर किसानों को लाभान्वित किया गया। रबी में गेहूं के समर्थन मूल्य 1725 रूपये प्रति क्ंिवटल घोषित करते हुए 265 रूपये अतिरिक्त किसानों को दिया जाएगा।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मानपुर विधायक मीना सिंह ने कहा कि जिले के किसान सम्मेलन में दी जा रही कृषि संबंधित समस्त जानकारियों को अपने खेत में उतारें और अधिक उत्पादन कर कृषि को लाभ का धंधा बनाने में कोई कोर कसर नही छोड़े। बांधवगढ़ विधायक ने कहा कि किसानों के खून पसीने की कमाई का वाजिब हक मिला है। इस अवसर पर कलेक्टर माल सिंह, मण्डी अध्यक्ष कमल सिंह, मिथिलेश मिश्रा, धनुषधारी सिंह, उमा महोबिया, राकेश शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। इस अवसर पर किसानों को अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र वितरण किया गया। जिसमें सुधीर दुबे, प्रहलाद राय, लल्ला सिंह, धनीराम, हरीशचंद्र तिवारी सहित जिले के अन्य कृषक शामिल रहे।

Ad Block is Banned