script40 caves are 2 thousand years old found in bandhavgarh, glorious histo | यहां मिली हैं 2 हजार साल पुरानी 40 गुफाएं, दिखेगा गौरवशाली इतिहास | Patrika News

यहां मिली हैं 2 हजार साल पुरानी 40 गुफाएं, दिखेगा गौरवशाली इतिहास

बांधवगढ़ में 2 हजार साल पुरानी 40 गुफाओं को पाया गया है, प्रमाण खोजने में जुटे पुरातात्विक विभाग को अधिकतर बौद्ध गुफाएं देखने को मिली।

उमरिया

Published: June 04, 2022 07:48:47 pm

जबलपुर. बांधवगढ़ को विश्व धरोहर का दर्जा दिलाने के लिए पुरातात्विक विभाग ने प्रमाण जुटाने की कवायद शुरू की है। पहली बार व्यवस्थित तौर पर प्रारम्भिक सर्वेक्षण कराया जा रहा है। इनमें चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। यहां दो हजार साल पुरानी गुफाओं की शृंखला है। ब्राम्ही लिपि के अभिलेखों के अलावा मंदिर, विशालकाय मूर्तियां व किलों की बुलंदियां अब भी कायम हैं। सर्वेक्षण के दूसरे चरण में इन प्राचीन धरोहरों के डाक्यूमेंटेशन की प्रक्रिया जारी रहेगी।

patrika_mp_1.png

विशेषज्ञों की टीम वैज्ञानिक तरीके से डाटा जुटा रही है। टीम में पुरातत्वविदों के साथ प्रचीन अभिलेख पढ़ने और छापा लेने वाले लिपि विशेषज्ञ, स्टक्चरल इंजीनियर, केमिकल कंजरवेशन के वैज्ञानिक शामिल हैं। उन्होंने कई दिनों तक बारीकी से पुरे अवशेषों का अध्ययन किया। इस दौरान हाथियों के झुंड ने उन्हें एक-दो बार खदेड़ा भी। सर्वे की विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर भारत सरकार के पुरातत्व विभाग को जल्द भेजी जाएगी।

पौराणिक कथाओं से रहा है नाता
बांधवगढ़ प्रमुख रूप से टाइगर रिजर्व है, लेकिन इसकी समृद्ध पुरातात्विक पृष्ठभूमि भी है। पुराणों के अनुसार भगवान राम ने छोटे भाई लक्ष्मण को इसे उपहार में दिया था। बांधव का अर्थ भाई और गढ़ का आशय किला है। बांधवगढ़ का लिखित इतिहास ईसा पूर्व पहली शताब्दी का है। यह क्षेत्र लंबे समय तक माघ शासकों के अधीन था। यहां भीमसेन के पुत्र महाराजा कौत्सीपुत्र पोथासिरी के विभिन्न ब्राम्ही शिलालेख मिले हैं। पोथासिरी सक्षम शासक थे। बांधवगढ़ उनकी राजधानी थी। उनके काल में ही यह खूब फली-फूली।

ऐसी नक्काशीदार मूर्तियां देखने को मिली
शेषशायी विष्णु मूर्तिकला- यह मूर्ति बलुआ पत्थर पर उकेरी गई है। यह कलचुरी वंश से सम्बंधित है। इस मूर्ति के पास विशाल शिवलिंगम भी है। इस पर एक छोटी नरसिंह मूर्ति भी रखी गई है। किवदंतियों में ऐसा भी कहा जाता है। भगवान विष्णु यहां इसीलिए लेटे हैं, ताकि जंगली जानवरों की रक्षा की जा सके। शिलालेख-कुषाणकालीन ब्राम्ही शिलालेख के अलावा कलचुरी काल के शिलालेख भी ज्ञात हैं। ये शिलालेख गुफाओं के अंदर और मूर्तियों पर उकेरे गए हैं। बांधवगढ़ के शुरुआती शिलालेख लगभग पहली-दूसरी शताब्दी के हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार जंगल में करीब 40 गुफाओं का सर्वे किया गया। इनमें अधिकतर बौद्ध धर्म के हीनयान मत से संबंधित हैं। स्थानीय लोगों का मानना है कि बांधवगढ़ पार्क क्षेत्र में 100 से ज्यादा गुफा हो सकती हैं। काफी संख्या में कुषाणकालीन ब्राम्ही अभिलेख मिले हैं। अब तक पांच बड़े मंदिरों का सर्वे हुआ है। ऊंचाई पर परकोटेदार किले हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'स्मोक वार्निंग' के कारण मालदीव जा रही 'गो फर्स्ट' की फ्लाइट की हुई कोयंबटूर में इमरजेंसी लैंडिंगHimachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो किसानों का तीन लाख तक का कर्ज होगा माफBJP का महागठबंधन पर बड़ा हमला, सांबित पात्रा बोले- नीतीश-तेजस्वी के साथ आते ही बिहार में जंगलराज शुरूबिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.