एससी/एसटी एक्ट के विरोध में निकाली बाइक रैली

एससी/एसटी एक्ट के विरोध में निकाली बाइक रैली

shivmangal singh | Publish: Sep, 06 2018 05:26:45 PM (IST) Umaria, Madhya Pradesh, India

बंद को लेकर पुलिस-प्रशासन चौकन्ना, तैयारियां पूरी

उमरिया. एससी/एसटी एक्ट के विरोध में गुरुवार को होने वाले भारत बंद का असर जिले में भी शांतिपूर्ण ढंग से होना संभावित माना जा रहा है। इसी परिपेक्ष में बुधवार की दोपहर बेनाम संगठन के युवाओं ने इसके विरोध में बकायदा बाइक रैली निकाली और सभी को भारत बंद को सफल बनाने आह्वान किया है। हालांकि भारत बंद को लेकर जिले में पुलिस सतर्क है और जिले के सभी थानों को हाई अलर्ट में रखा गया है पुलिस अधीक्षक डॉ असित यादव ने इस संबंध में थाना प्रभारियों की बैठक ली है, जिसके परिपेक्ष में आवश्यक और जरूरी निर्देश भी दिए गये हैंÓ
दरअसल सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी-एसटी एक्ट में दिए गए निर्णय के विरुद्ध केंद्र सरकार ने गत 20 मार्च को नया अध्यादेश लाया थाएऔर एससी-एसटी के पक्ष में महत्वपूर्ण निर्णय दिया था। बताया जाता है कि इसी अध्यादेश के विरोध में गुरुवार को भारत बंद का आव्हान किया गया है। भारत सरकार के इस नए अध्यादेश में एससी एसटी की शिकायत से सम्बन्धित दोषी पर तत्काल अपराध कायम कर जेल भेजने की व्यवस्था होगीए साथ ही छह माह तक द्वितीय पक्षकार जमानत के लिए न्यायालय भी नही जा सकेगा।
भारत सरकार द्वारा जारी इस नए अध्यादेश को लेकर समाज के एक बड़े तबके का मानना है कि ऐसे अध्यादेश से जातिगत बुराइयां बढ़ेंगी साथ ही झूठे आरोप लगाकर अनर्गल अपराध कायम कराया जाएगा जिससे समाज का एक बड़ा तबका न्याय से हमेशा वंचित रहेगा, भारत बंद को हवा दे रहे समाज के उस तबके का मानना है कि ऐसा अध्यादेश तुगलकी फमान है, इसे देश के लिए सर्वहितकारी नही कहा जा सकता। उनका यह भी मानना है कि देश मे आरक्षण का आधार आर्थिक होना चाहिए, जिससे सभी गरीब सरकार से सीधे लाभान्वित हो सके। इसके अलावा भारत सरकार द्वारा जारी नया अध्यादेश वापस लिया जाए और आरक्षण जैसे मुख्य विषय पर पुन: समीक्षा की जाए साथ ही एससी एसटी एक्ट 1989 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान हो सिर्फ आरोप के आधार पर किसी की गिरफ्तारी संभव ना हो सके।

Ad Block is Banned