टीमों का गठन कर घर-घर कराएं स्वास्थ्य परीक्षण

जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में कलेक्टर ने दिए निर्देश

By: ayazuddin siddiqui

Published: 23 Apr 2020, 08:00 AM IST

उमरिया. जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में कलेक्टर स्वरोचिश सोमवंशी ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि वे कोरोना वायरस संक्रमण का घर-घर सर्वे कराएं। इसके लिए आवश्यक टीमों का गठन किया जाए। कोटा राजस्थान में कोचिंग से वापस आ रहे छात्रों के लिए तीन बसों की व्यवस्था की गई है। इन छात्रों को उमरिया जिला मुख्यालय पहुंचने पर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। इन बच्चों को रोकने एवं स्वास्थ्य परीक्षण के लिए तीन सेंटर बनाए जाएंगे। जिसका नोडल अधिकारी सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आनंद राय सिन्हां को बनाया गया है। स्वास्थ्य परीक्षण होने के बाद उनके माता पिता को सूचित करने के निर्देश दिए। इसी तरह जिले के जो श्रमिक कार्य की तलाश में जिले से बाहर गये हुए थे, तथा लॉकडाउन के कारण वहीं रूके हुए है उनके ठहरने एवं भोजन की व्यवस्था कराई जाए। पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में बनाए गए क्वारेंटाईन हाउस में जो लोग रखे गये है उनका दिन में तीन बार चेकअप किया जाए। बैठक में पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अंकित अस्थाना, सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग आनंद राय सिन्हां, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजेश श्रीवास्तव, मुख्य नगर पालिका अधिकारी एस के गढपाले, डॉ. संदीप सिंह, डॉ. बीके प्रजापति, कलेक्टर स्टेनो चंदकांत बलाडी उपस्थित रहे।

ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned