कोरोना: पुत्र ने कहा- ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई उसके पिता की मौत

अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही के आरोप

By: ayazuddin siddiqui

Published: 20 Sep 2020, 07:10 AM IST

उमरिया. जिला चिकित्सालय में कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत मामले में मृतक के परिजनो ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं। मृतक के पुत्र ने प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से उसके पिता की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना मरीजों को जहां रखा जा रहा है वहां लापरवाही चरम पर है। मामले में सच्चाई कितनी है यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। बहरहाल मामले की जानकारी कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को भी दी गई है।
एक्सीडेंटल मामले में भी लगे थे आरोप
जिला अस्पताल पूर्व में भी अपनी लापरवाहियो के चलते सुर्खियां में रहा है। कुछ दिन पहले ही एक एक्सीडेंटल मामले में भी एक बच्चे की मौत हो गई थी। जिस पर बच्चों के परिजनों के द्वारा प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया था। उसके बाद गत दिवस कोरोना मरीज के इलाज के समय भी प्रबंधन की लापरवाही सामने आई है।
कोविड -19 संक्रमित की संख्या में इजाफा
शुक्रवार को कोरोना के 23 केस मिले एवं मौत का आंकड़ा 7 पर पहुंच गया है। जिले में अब कोरोना पॉजिटिव केस की कुल संख्या 340 हो चुकी है। जिसमें होम आइसोलेशन किए गए मरीजों की 109 एवं अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों की संख्या 44 है। जिले में कोविड- 19 के केस बढ़ रहे हैं जिला मुख्यालय से लेकर गांव तक इस बीमारी का संक्रमण फैल चुका है।
एसबीआई कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव
चंदिया स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया के आधा दर्जन बैंक कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। रिपोर्ट आने के बाद सभी होम आइसोलेशन मे है। बैंक मैनेजर जो छुट्टी लेकर कटनी गए हुए थे, उन्होने भी सुरक्षा की दृष्टि से कोरोना जांच करवाई है।
सावधानियां ही एक मात्र उपाय : कलेक्टर
कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने कहा है कि सभी लोग कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं। किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं करें, बच्चों और घर के बुजुर्गो का विशेष ध्यान रखा जाए। जो व्यक्ति कोरोना संक्रमण से पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं और स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं वे अपना इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए आयुर्वेद वस्तुओं च्यवनप्राश, हल्दी का दूध, नमक से गरारे और अन्य ऐसी ही पारम्परिक वस्तुओं का सेवन करें और योगाभ्यास करें। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि सार्वजनिक जगहों शासकीय,आशासकीय कार्यालयों या अन्य जगहों पर जाने के पहले मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं और यह भी सुनिश्चित करें कि बात करते समय फेस मास्क को नीचे ना करें।

ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned