मां विरासिनी के दरबार में घट स्थापना के साथ भक्तों ने किया दर्शन

मंदिरों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, मास्क लगाने के बिना मिली एंट्री

By: ayazuddin siddiqui

Published: 18 Oct 2020, 05:48 PM IST

उमरिया. शारदेय नवरात्र 17 अक्टूबर से प्रारंभ हो गई है। बिरसिंहपुर पाली में समिति के अध्यक्ष कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव सपत्नीक प्रात: काल मंदिर पहुंचकर माता विरासिनी के दरबार में पहुंचकर विधिवत पूजा-अर्चना की एवं जिलेवासियों की खुशहाली के लिए मां विरासिनी से प्रार्थना की। इस अवसर पर तहसीलदार अभिषेक पाण्डेय, मुख्य नगर पालिका अधिकारी आभा त्रिपाठी, नगर निरीक्षक आरके धारिया, प्रकाश पालीवाल सहित मंदिर प्रबंधन कमेटी के सदस्यगण उपस्थित रहे। कलेक्टर ने मंदिर प्रांगण में पूजा उपरांत मंदिर परिसर का निरीक्षण किया तथा मंदिर प्रांगण में घट स्थापना किया।
उचेहरा मंदिर पहुंचे कलेक्टर
मां विरासिनी में कलेक्टर ने सपत्नीक पूर्जा अचना के पश्चात नौरोजाबद क्षेत्र स्थित मां ज्वाला उंचेहरा धाम पहुंचे। जहां पर कलेक्टर ने मां ज्वाला की विधिवत पूजा अर्चना की । इस अवसर पर कलेक्टर ने मंदिर प्रांगण का निरीक्षण किया तथा वहां बन रहे प्रसाद का अवलोकन करते हुए स्वयं अपने हाथों पर बेलचा थामते हुए काम किया। इसके साथ ही उन्होंने वर्तमान में कोरोना वायरस को दृष्टिगत रखते हुए फेस कव्हर करने के साथ शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करने हेतु कहा।

दुर्गा पण्डालों में मां विराजी मां दुर्गा
शारदेय नवरात्र के प्रारंभ होने के साथ ही नगर स्थित विभिन्न जगहो पर मां दुर्गा की प्रतिमाओं को स्थापित किया गया। नगर के स्टेशन चौराहाए स्टेशन रोडए दीप शू पैलेस के बगल सेए बाबा फूल सिंह वार्डए सिंगल टोला सहित अन्य जगहो पर माता की प्रतिमाओ को स्थापित किया। स्थापना का यह दौर देर रात तक चलता रहा। इसके साथ आज द्वितीय दिन भी माता की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।आज शारदेय नवरात्र की दूसरे दिन ब्रह्म चारिणी माता की विधि विधान से पूजा अर्चना की जाएगी।
सोशल डिस्टेसिंग के साथ हुई पूजा-अर्चना
जिले में शारदेय नवरात्र के अवसर पर नगर स्थित विभिन्न मंदिरों में माता की पूजा अर्चना सोशल डिस्टेसिंग के साथ की गई। जिला मुख्यालय स्थित मां ज्वालामुखी मंदिर में वर्तमान में कोरोना वायरस को दृष्टिगत रखते हुए दो गज की दूरी पर दो गोले बनाए गए थे। जिसमें एक महिला तथा दूसरा पुरूष के लिए। गोले में खड़े श्रद्धालु अपनी बारी का इंतजार करते हुए माता के दर्शन किए। इसके साथ ही मंदिरों के घंटो कपडा बांध दिया गया था। मंदिर प्रबंधन द्वारा कोविड 19 कोरोना वायरस के तहत समस्त निर्देशों का अक्षरश: पालन किया जा रहा है एवं मंदिर तक आने वाले श्रद्धालुओ से कराया जा रहा है।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned