scriptDocuments and blank checks were kept, was threatening to kill | रख लिए थे दस्तावेज व खाली चैक, जान से मारने की दे रहा था धमकी | Patrika News

रख लिए थे दस्तावेज व खाली चैक, जान से मारने की दे रहा था धमकी

पीडि़त की शिकायत पर पुलिस ने किया गिरफ्तार
एक और फरियादी ने दर्ज कराई शिकायत

उमरिया

Published: November 08, 2021 05:43:21 pm

उमरिया. पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार सिन्हा ने बताया कि बगैर लायसेंस के ब्याज पर पैसा चलाने वाले सूदखोरों के खिलाफ सख्ती करते हुए उनके विरुद्ध कार्यवाही करने अभियान चलाया जाएगा। अभियान को लेकर समस्त थाना प्रभारियों को एसपी ने निर्देश भी जारी कर दिए हैं। वहीं अशोक सारथी पिता सुखलाल सारथी निवासी एसपी 35 एमपीईबी कालोनी मंगठार ने अनिल मिश्रा पिता स्व. काशी प्रसाद मिश्रा के विरूद्ध शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में बताया गया कि दो साल पहले दीपावली पर उसने अनिल मिश्रा से 30000 रूपये लिए थे। पैसे देने के दो माह बाद अनिल मिश्रा ने अशोक से कहा कि वह 10 प्रतिशत के हिसाब से उसे हर माह 3000 हजार रुपये देगा और नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। अशोक ने बताया कि उसकी बाइक होण्डा साइन भी अनिल मिश्रा ने रख ली। बाइक वापस मांगने पर अनिल मिश्रा ने अशोक व उसके परिवार के किसी सदस्य के बैंक से संबंधित दस्तावेज मांगे। अशोक ने अपने पिता के हस्ताक्षर किए 2 चेक, खुद का हस्ताक्षर किया हुआ स्टाम्प, माता का एटीएम व बाइक के दस्तावेज अनिल मिश्रा को दे दिया। सारे दस्तावेज देने के बाद भी अनिल ने बाइक वापस नहीं किया। बल्कि पूरे पैसे वापस करने की मांग करने लगा और न देने पर जान से मारने की धमकी देने लगा। फरियादी अशोक की सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए एसडीओपी पाली डॉ जितेन्द्र जाट के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी पाली निरीक्षक आर. के. धारिया के नेतृत्व में थाना पाली से उप निरीक्षक मुकेश मर्सकोले के व्दारा मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना दौरान आरोपी अनिल मिश्रा के कब्जे से फरियादी अशोक सारथी की मोटर सायकल क्रमांक एमपी 54 एमडी 0232, मोटर सायकल के दस्तावेज, 4 नग एटीएम कार्ड, 3 ब्लैंक चेक, 1 पासबुक व अनिल मिश्रा द्वारा ब्याज के रूपये/ पैसो का हिसाब किया हुआ रजिस्टर जब्त कर कब्जे में लिया गया एवं आरोपी अनिल मिश्रा को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश करते हुए 2 दिवस का पुलिस रिमाण्ड लिया गया। आरोपी की पुलिस रिमाण्ड अवधी के दौरान एक अन्य फरियादी रामदरश शर्मा निवासी ई-248 एमपीईबी कालोनी मंगठार ने भी थाना में उपस्थित आकर बताया कि आरोपी अनिल मिश्रा व्दारा ब्याज पर वर्ष 2019 मे 1,79,500 रुपये वर्ष 2020 मे 3 लाख 27 हजार 500 रुपये एवं वर्ष 2021 मे 10,25,00 रुपये ब्याज पर दिये गये थे जो कि प्रतिमाह 5 प्रतिशत ब्याज दर पर था। फरियादी व्दारा उक्त ब्याज के बदले में आरोपी अनिल मिश्रा को क्रमश: वर्ष 2019 मे 1,75,480 रुपये, वर्ष 2020 में 33,5750 रुपये एवं वर्ष 2021 मे 3,16500 रुपये वापस लौटाना बताया। जिसमे कुल 609500 रुपये पर अनिल मिश्रा को 827730 रुपये देना बताया है। फरियादी रामदरश शर्मा निवासी ई-248 एमपीईबी कालोनी मंगठार की सूचना पर आरोपी अनिल मिश्रा के विरूद्ध थाना पाली में एक अन्य प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया एवं आरोपी अनिल मिश्रा को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है। प्रकरण की विवेचना जारी है। मामले में लगातार पूछताछ की जा रही है।

Documents and blank checks were kept, was threatening to kill
Documents and blank checks were kept, was threatening to kill

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाJob Reservation: हरियाणा के युवाओं को निजी क्षेत्र की नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण आज से लागूUP Election: चार दिन में बदल गया यूपी का चुनावी समीकरण, वर्षों बाद 'मंडल' बनाम 'कमंडल'अलवर दुष्कर्म मामलाः प्रियंका गांधी ने की पीड़िता के पिता से बात, हर संभव मदद का भरोसाArmy Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए महत्व और इतिहास से जुड़े रोचक तथ्यभीम आर्मी प्रमुख चन्द्र शेखर ने अखिलेश यादव पर बोला हमला, मुलाकात के बाद आजाद निराशयूपी विधानसभा चुनाव 2022 पहले चरण का नामांकन शुरू कैराना से खुला खाता, भाजपा के लिए सीटें बचाना है चुनौतीधोनी का पहला प्यार है Indian Army, 3 किस्से जो लगाते हैं इस बात पर मुहर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.