यहां पहुंची ईओडब्ल्यू टीम, जब्त किए दस्तावेज, जारी किया नोटिस

यहां पहुंची ईओडब्ल्यू टीम, जब्त किए दस्तावेज, जारी किया नोटिस

Ramashankar mishra | Publish: Jun, 22 2019 11:52:30 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

किसान ऋण माफी व अन्य योजनाओं में की गई अनियमितता का मामला

उमरिया. मानपुर जनपद पंचायत अंतर्गत जय किसान कर्ज माफी में सहकारी समित चिल्हारी द्वारा भ्रष्टाचार किए जाने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गई थी। जिसे लेकर ईओडब्ल्यू रीवा द्वारा संबंधित दस्तावेजों की मांग की जा रही थी। लेकिन समिति प्रबंधन द्वारा दस्तावेज मुहैया नहीं कराए जा रहे थे। जिस पर शुक्रवार को ईओडब्ल्यू की टीम चिल्हारी पहुंची। जहां टीम ने संबंधित रिकार्ड जब्त कर लिया है। उल्लेखनीय है कि ग्रामीणों द्वारा जय किसान ऋण माफी योजना और अन्य योजनाओं में अनियमितता किए जाने की शिकायत की गई थी। मामले में ई ओ डब्ल्यू के इन्सपेक्टर प्रवीण चतुर्वेदी ने बताया कि हम लोग इन्दवार बैंक, चिल्हारी सहकारी समिति और इन्दवार सहकारी समिति को नोटिश देकर बुधवार तक का समय देते हुए 10 वर्ष के पूरे रिकार्ड रीवा स्थित ईओ डब्ल्यू कार्यालय में पेश करने के लिए कहा है। चिल्हारी समिति के सेल्स मैन शेष मणि मिश्रा और आपरेटर सतेन्द्र चतुर्वेदी ने बताया कि ई ओ डब्ल्यू की टीम यहां पहुंची हुई थी। जिन्हे प्रबंधक द्वारा आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराए गए हैं। वहीं टीम द्वारा नोटिश जारी कर 10 वर्ष के सभी रिकार्ड बुधवार तक ईओडब्ल्यू कार्यालय रीवा में जमा कराने के निर्देश दिए गए हैं।
ईओडब्ल्यू में की थी शिकायत
शिकायतकर्ता चन्द्र प्रताप चतुर्वेदी निवासी ग्राम महरोई ने बताया कि जय किसान कर्ज माफी योजना में जिन किसानों के नाम पर भ्रष्टाचार हुआ था उसके संबंध में ई ओ डब्ल्यू रीवा और भोपाल में शिकायत की गई थी। वहां से आज ई ओ डब्ल्यू की टीम भी आई हुई थी। नोटिश देकर बुधवार तक 10 वर्ष के रिकार्ड मांगे गए हैं। गौरतलब है कि चिल्हारी सहकारी समिति प्रबंधक द्वारा व्यापक अनियमितता की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned