एक्सपर्ट ने दी ट्रेनिंग: गाइडों ने सीखा जंगली हाथियों से पर्यटकों को बचाने का तरीका

पार्क खुलने से पहले गाइड्स की तैयारियां, छह दिवसीय प्रशिक्षण में 101 गाइड हुए शामिल

By: ayazuddin siddiqui

Updated: 30 Sep 2020, 06:37 PM IST

उमरिया. बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व में पर्यटन प्रारंभ होने के साथ ही गाइड, चालक व पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों में उत्साह का माहौल है। एक अक्टूबर से कोर व बफर के गेट सफारी के लिए खोल दिए जाएंगे। इसके पूर्व ताला में गाइडों को प्रशिक्षण दिया गया।
इस बार कोर व बफर मिलाकर 101 गाइड इसका हिस्सा रहे। सभी को मुख्य ट्रेनर के रूप में पुणे से आए वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट सुशील चिकने, वन अधिनियम संबंधी जानकारी यश कुमार सोनी व हाथियों के मूवमेंट को लेकर पुष्पेन्द्र द्विवेदी ने महत्वपूर्ण जानकारी दी। छह दिवसीय प्रशिक्षण में 101 गाइड वन्यजीव व प्रकृति सौंदर्य की कला से सैलानियों को रिझाने की कला से पारंगत हुए। आखिरी दिन आकलन के नजरिए से इनकी परीक्षा भी ली गई। प्राप्त अंकों के आधार पर पार्क प्रबंधन उनकी ग्रेडिंग करेगा। प्रशिक्षण में मुख्य रूप से वन्यजीवों की गतिविधि, वनस्पति एवं भौगोलिक आधारित जानकारी दी गई। इस बार पहली बार हाथी व कोरोना विषय को भी प्रशिक्षण में शामिल किया गया। बताया गया कि सफारी के दौरान अचानक सामने जंगली हाथी आ जाए तो किस तरह से खुद व पर्यटक का बचाव करना है।
इसकी बारीकिया ट्रेनर पुष्पेन्द्र द्विवेदी ने बताईं। इसी तरह मास्टर ट्रेनर सुनील चिकने ने वाइल्ड लाइफ के अनुभव को साझा किया। बताया गया सफारी के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के मुख्य तरीको में जरा भी चूक बर्दाश्त नहीं होगी। प्रतिभा विस्तार को सुदृढ़ करने 200 पर्यटकों के गाइडों के साथ अनुभव साझा किए गए। तकरीबन 20 साल से बांधवगढ़ आ रहे पर्यटकों से लिखित में यह जानकारी मांगी गई थी। प्राप्त सुझाव गाइडों को बताए तथा आवश्यक सुधार के क्षेत्र में ज्ञान दिया गया। इसके अलावा सफारी में दुर्घटना से बचाव के लिए प्राथमिक उपचार तथा सर्प पकडने के अहम गुर सिखाए गए। समापन समारोह में शनिवार को पार्क क्षेत्र संचालक वीसेंट रहीम, उपसंचालक सिद्धार्थ गुप्ता, एसडीओ अनिल शुक्ला, एसडीओ मानपुर, पर्यटन प्रभारी बीनू सिंह, धमोखर रेंजर विजय शंकर श्रीवास्तव सहित अन्य स्टॉफ मौजूद रहा। प्रशिक्षण के दौरान कोर व बफर जोन के सभी गाइड शामिल हुए।
अलग-अलग मास्टर ट्रेनरों द्वारा वाइल्ड लाइफ बाघ, हाथी व अन्य महत्वपूर्ण विषय पर जानकारी दी गई। मास्टर ट्रेनरों में लोकल कंजरवेशिष्ट पुष्पेन्द्रनाथ द्विवेदी, एडवोकेट यश कुमार सोनी व दो अन्य विशेषज्ञों ने प्रशिक्षण दिया।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned