धान बेचने के बाद पैसे के लिए किसान परेशान

धान खरीद केन्द्रों पर लगा अंबार

By: ayazuddin siddiqui

Published: 19 Jan 2019, 10:00 AM IST

उमरिया. जिले में धान खरीदी के लिए 29 केंद्र बनाये गये हैं, किसानों ने भी बढ़-चढकऱ इसमें हिस्सेदारी ली और अपनी धान लाकर केन्द्रों में बेचा। आज किसान अपने बेचे हुए धान के पैसे के लिए दर-दर भटक रहा है। इसका जवाब विभाग के अधिकारियों को भी देने में परेशानी हो रही है। विभाग अपना बचाव करते हुए पूरा मामला एक दूसरे पर डाला जा रहा हैं। नौरोजाबाद छादाखुर्द खरीदी केंद्र की बात करें तो यहां पर लगभग 130 किसानों ने अपना धान बेचा। उनमें से महज 28 किसानों को भुगतान हुआ। बाकी किसान लगभग एक माह से पैसे के लिए बैकों के चक्कर काट रहे हैं।
इस विषय पर जब एमपी सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के महाप्रबंधक मुकुल त्रिपाठी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह पूरा मामला भोपाल स्तर पर लटका हुआ है इसके लिए समितियों को कहा गया है कि डिजिटल सिग्नेचर तैयार करायें, लेकिन समितियां ऐसा नहीं कर रहीं हैं। जिसके चलते किसानों का भुगतान नहीं हो पा रहा है। अब सवाल यह उठता है कि समितियां जब अपने ही अधिकारी की बात नहीं सुन रही हैं तो फिर कोई क्या कर सकता है। इस तरीके से अधिकारी अपना दामन बचाते हुए किसी महिला अधिकारी के ऊपर पूरा मामला डाल दिया, और कहा कि यह बात उन्हीं से करिए वो समितियों का काम देख रहीं हैं।
जिले में अब तक 8255 किसानों से 406619 क्विंटल धान की खरीदी 29 केंन्द्रों के माध्यम से की जा चुकी है। जिसमें से महज 270448 क्विंटल धान का परिवहन किया जा चुका है। शेष धान अभी भी केन्द्रों में पड़ी हुई है। शायद जिले में यह पहला खरीदी वर्ष होगा जब परिवहन की गति इतनी धीमी है। जबकि परिवहन कर्ता द्वारा ओवर लोड धान की ढुलाई की जा रही है। इसके बावजूद भी समय पर धान का उठाव पूरा न हो पाना प्रशासनिक कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगा रहा है। धान की खरीदी आज 19 जनवरी 2019 तक की जाएगी। जिला आपूर्ति अधिकारी बीएस परिहार ने बताया कि सेवा सहकारी समिति मर्यादित उमरिया में 335 किसानों से 17721 क्विंटल, चंदिया में 482 किसानों से 32586 क्विंटल, कौडिया में 684 किसानो से 43996 क्विंटल, निगहरी में 169 किसानों से 8304 क्विंटल, ददरौड़ी में 442 किसानों से 23504 क्विंटल, पथरहठा में 307 किसानों से 19927 क्विंटल धान की खरीदी की गई है।
इसी प्रकार बिलासपुर में 131 किसानों से 6223 क्विंटल, करकेली में 79 किसानों से 3001 क्विंटल, घुनघुटी में 165 किसानों से 6034 क्विंटल, चौरी में 57 किसानों से 1700 क्विंटल, मानपुर में 502 किसानों से 20280 क्विंटल, बल्हौड़ में 277 किसानों से 9216 क्विंटल, नवगवां में 441 किसानों से 19952 क्विंटल, गढ़पुरी में 209 किसानों से 13448 क्विंटल, कोठिना में 248 किसानों से 9134 क्विंटल, बकेली में 197 किसानों से 9939 क्विंटल, कठार में 462 किसानों से 19993 क्विंटल, सिगुड़ी में 421 किसानों से 18450 क्विंटल, इंदवार मेंं 320 किसानों से 11664 क्विंटल, भरेवा में 155 किसानों से 5864 क्विंटल, कोटरी में 360 किसानों से 13777 क्विंटल धान की खरीदी अब तक की जा चुकी है। इसी तरह अमरपुर में 215 किसानों 10785 क्विंटल, पड़वार में 182 किसानों से 6633 क्विंटल, चिल्हारी में 208 किसानों से 8091 क्विंटल, छांदाखुर्द में 205 किसानों से 7272 क्विंटल, सलैया में 224 किसानों से 9897 क्विंटल, कुम्हरवाह में 290 किसानों से 14632 क्विंटल, मालाचुआ में 160 किसानों से 7253 क्विंटल तथा अखड़ार में 328 किसानों से 27628 क्विंटल धान की खरीदी की जा चुकी है।

ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned