वन विभाग ने कराया था सागौन का प्लांटेशन , अब हो गया बंजर

वन विभाग ने कराया था सागौन का प्लांटेशन , अब हो गया बंजर

Ramashankar mishra | Publish: Jun, 16 2019 11:53:21 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

शासकीय जमीन पर अतिक्रमणकारियों का कब्जा, काट दिए गए पेड़

उमरिया. मानपुर वफरजोंन अंतर्गत वन विभाग कार्यालय से कुछ दूर स्थित सिगुड़ी मोड के आस-पास का क्षेत्र पूरी तरह से हरा-भरा था। यहां सागौन का प्लांटेशन कराया गया था। सागौन के यह पौधे काफी बड़े हो गए थे पूरा क्षेत्र सागौन के जंगल के रूप में स्थापित हो गया था। देखरेख व रखरखाव के अभाव में सागौन के पौधों का यह जंगल ठूंठ में तब्दील हो चुका है। बताया जा रहा है कि अज्ञात लोगों के द्वारा पूरा प्लांटेशन नष्ट कर दिया गया है। मौके में देखा जाए तो पूरे प्लाट में पेड़ों के काटने का दृश्य दिख रहा है। जानकारी अनुसार मानपुर के सिगुडी मोड़ के समीप वन विभाग द्वारा लाखों रुपये खर्च कर के वर्ष 2007 से 2011 तक मे करीब हजारों सागौन के पेड़ लगवाए गए थे जो काफी बड़े भी हो चुके थे लेकिन वन विभाग के जिम्मेदार लोगों की लापरवाही के कारण सागौन का जंगल अचानक नष्ट हो गया। सागौन के जंगल की इस तरह कटाई क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। जानकारों का कहना है की भूमाफियाओं की नजर सागौन के प्लान्टेशन में वर्षों से थी। अवैध कब्जा करने की नीयत से अतिक्रमण कारियों द्वारा सागौन के पेडों को कटवाया गया है। धीरे-धीरे इस जमीन पर भी कब्जा कर लिया जाएगा।
अतिक्रमण की चपेंट में
सागौन प्लान्टेशन के पीछे वाले वन भूमि के प्लाट में अतिक्रमण कारियों द्वारा अवैध तरीके से कब्जा कर लिया गया है। हालांकि वन विभाग द्वारा कुछ माह पूर्व इन्हे हटाने की कार्रवाई की गई थी। लेकिन अब उक्त भूमि में बड़े बडे ईंट भट्ठे लगे हुए हैं व जगह जगह झोपड़ी बना कर पूरे प्लाट में अवैध तरीके से कब्जा कर लिया गया है। उन्ही अतिक्रमण कारियों को देख कुछ अज्ञात लोग सागौन के प्लान्टेशन को नष्ट कर अतिक्रमण करने की फिराक में हैं।
इनका कहना है
सागौन के प्लान्टेशन को अज्ञात लोगों द्वारा नष्ट करने की जानकारी मिली है। कुछ अतिक्रमणकारियों ने झोपड़ी भी बना ली है। जिस पर पीओआर जारी कर कुछ अतिक्रमणकारियों को नोटिस जारी किया गया है। साथ ही जांच भी कराई जा रही है।
दिनेश कुमार जमरे, वन परिक्षेत्राधिकारी , मानपुर वफर जोन।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned