स्कूल के सुविधाघर में कचरे का ढेर

जर्जर भवन में संचालित हो रही कक्षाएं, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

By: ayazuddin siddiqui

Published: 01 Jul 2019, 09:40 AM IST

घुनघुटी. जनपद पंचायत पाली के घुनघुटी स्थित मिडिल व हाई स्कूल के 2 सैकड़ा से अधिक छात्र खुले में शौच करने को मजबूर हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि ग्रामीणों ने विद्यालय को ही शौच का अड्डा बना लिया है बावजूद इसके विद्यालय प्रबंधन व शिक्षा विभाग मौन बैठा हुआ है। ऐसा नहीं है कि शिक्षा विभाग द्वारा कक्षा 1 से 10 तक संचालित विद्यालय में शौचालय की सौगात नहीं दी गई। वर्षों पहले लाखों रुपए खर्च करके यहां शौचालय तो बनाए गए लेकिन लापरवाही के कारण शौचालय कचरा घर में तब्दील हो गया । शौचालय गंदगी से भरे पड़े हैं उनके पीछे बने सेफ्टी टैंक खुले पड़े है।ं जिनका वर्षों से उपयोग नहीं हो रहा है। इतना ही नहीं यहां संचालित हाई स्कूल में लगभग 545 के आसपास बच्चे अध्ययनरत है । जिसमें अकेले छात्रों की संख्या 205 हैं। इसमें कक्षा 8 से 10 तक की बड़ी उम्र की छात्राएं भी है।
बन जाता है सुविधा घर
बीते कई दशकों से ग्राम पंचायत घुनघुटी की बस्ती में विद्यालय संचालित हैं। कुछ वर्ष पूर्व माध्यमिक से उन्नयन कर हाई स्कूल बनाया गया है। यहां विद्यालय के उपयोग में लिए जा रहे भवनों के अलावा काम्प्लेक्स के अंदर कुछ जर्जर कक्षाएं भी है। जिन्हें अब पढ़ाई की जगह ग्रामीण सुविधा घर के रूप में उपयोग कर रहे हैं। सुबह होते ही जर्जर कक्षाओं में ग्रामीण लोटा लेकर पहुंच जाते हैं। बताया जाता है कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा उक्त पंचायत को शत प्रदतिश ओडीएफ की श्रेणी में पहले रखा गया है।
भवन भी जर्जर
घुनघुटी हाई स्कूल की बड़ी बिल्डिंग कब ध्वस्त हो जाए कहा नहीं जा सकता है। आए दिन खिड़की और दरवाजे अपने से ही टूट कर गिर रहे हैं। यहां सबसे बड़ी समस्या यह है कि न तो यहां बिजली है न पानी। यहां के शिक्षक दिन भर गर्मी में बैठकर काम करते हैं। इसके बावजूद भी प्रशासन मौन है।

ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned