उपज खरीद के दौरान तालमेल रखें विभाग

उपज खरीद के दौरान तालमेल रखें विभाग

ayazuddin siddiqui | Publish: Apr, 03 2019 09:30:00 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर ने की सरकारी केंद्रों पर फसल खरीद व्यवस्था की समीक्षा

उमरिया. जिले में रबी की उपज गेहंू, चना, मसूर, सरसों आदि की सरकारी केंद्रों पर खरीद की जानी है। गेहूं खरीद के लिए 29 केंद्र बनाए गए हैं। चना, मसूर एवं सरसों की सरकारी खरीद कृषि उपज मण्डी प्रांगण उमरिया में किया जाना है। कलेक्टर स्वरोचिश सोमवंशी ने उपार्जन की तैयारियों की समीक्षा करते हुए आपूर्ति विभाग, कृषि, नागरिक आपूर्ति, सहकारिता मार्कफेड तथा स्टेट बेयर हाउस कार्पोरेशन के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी विभाग आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए उपार्जन की गतिविधियां संचालित करें। इस दौरान किसानों को किसी तरह की समस्यां नहीं होनी चाहिए। एसएमएस के माध्यम से पंजीकृत किसानों को सूचना दी जाए। अधिक किसान आने पर टोकन व्यवस्था लागू की जाए। किसानों को अपनी फसल बेचने हेतु अधिक समय तक इंतजार नहीं करना पड़े। फसल की फीडिंग तत्काल कराई जाए तथा उपार्जित अन्न का परिवहन दैनिक रूप से कर लिया जाए, जिससे भुगतान में अनावश्यक विलंब नहीं हो। पूर्व से ही बारदाने, परिवहन , भण्डारण की कार्य योजना बनाकर अमल मे लाई जाए। जिला आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि जिले में गेहूं उपार्जन हेतु 29 उपार्जन केंद्र बनाये गये हैं। 12843 किसानों द्वारा पंजीयन कराया गया है। उपार्जन हेतु जिला अनुभाग वार समितियां तथा उपार्जन केंद्र वार नोडल अधिकारी नियुक्त है। जिले में चना हेतु 1415, मसूर हेतु 363, सरसों हेतु 198 कुल 1976 किसानों ने पंजीयन कराया है। इन फसलो का उपार्जन कृषि उपज मण्डी प्रांगण में किया जाएगा। किसानों को भुगतान बैंक खातों में किया जाएगा। उपार्जन कार्य 24 मई तक चलेगा। गेहूं का उपार्जन मूल्य 1840 रुपये क्विंटल,चना का 4620 रुपए क्विंटल., मसूर का 4475 रुपये क्विंटल. तथा सरसों 4200 रुपए क्विंटल, निर्धारित है। बैठक में आपूर्ति अधिकारी, सहा.पंजी. सहकारिता, सहा. संचा. कृषि, प्र.आपूर्ति निगम, सचिव कृषि उपज मण्डी, प्र. मार्कफेड, प. स्टेट बेयर हाउस, प्र. एवं नोडल अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
कलेक्टर ने किया औचक निरीक्षण
कलेक्टर स्वरोचिश सोमवंशी ने गेहूं उपार्जन केन्द्रों आदिम जाति सेवा सहकारी समिति तथा आदिम जाति सेवा सहकारी समिति करकेली का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने केन्द्रों में आनलाईन फीडिंग, किसानों के बैठने की व्यवस्था, रिकार्ड संधारण , इलेक्ट्रानिक नाप तौल कांटे , प्राथमिक उपचार की व्यवस्था तथा रिकार्ड संधारण का अवलोकन किया। समितियों में गेहूं खरीदी के ंसबंध में एफ ए क्यू मानीटरिंग के निर्देश, उपार्जन दर तथा सुविधाओं के संबंध में लगाये गये फ्लैक्सी का अवलोकन करते हुए संबंधित केन्द्र प्रभारी एवं कम्प्यूटर आपरेटर को जानकारियों से अद्यतन रहने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने संबंधित अमले से मास्चर चेंिकंग , टूटे फूटे एवं कमजोर दानो ंकी चेकिंग आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की , जिसका जवाब वहां पदस्थ अमलें नही दे पाया। जिस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पुन: प्रशिक्षण आयोजित कराने के निर्देश दिए। भ्रमण के दौरान जिला आपूर्ति अधिकारी बी एस परिहार, सहायक आपूर्ति अधिकारी सुरेश मरावी, सहायक पंजीयक सहकारिता आरती पटेल , प्रबंधक आपूर्ति निगम सोनी भी उपस्थित रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned