गिरने की कगार पर मंगल भवन

हादसे की आशंका

By: ayazuddin siddiqui

Published: 26 Dec 2020, 05:55 PM IST

बिरसिंहपुर पाली. आम नागरिकों की सुविधा व विभिन्न धार्मिक आयोजन के उद्देश्य से नगर पालिका परिषद द्वारा करीब 25 वर्ष पूर्व सामुदायिक भवन सह मंगल भवन का निर्माण कराया था। जिसकी हालत बद से बदतर हो गई है लेकिन इस ओर जिम्मेदारों का ध्यान बिल्कुल भी नहीं है जो कभी भी धराशाई हो सकता है और इससे बड़ी क्षति हो सकती है। गौरतलब है कि लाखों रुपये से बने इस मंगल भवन का उद्घाटन 19 जनवरी 1995 को प्रदेश के पूर्व आदिम जाति कल्याण मंत्री व पशु धन विकास मंत्री बिसाहू लाल सिंह, पूर्व सांसद स्व. दलबीर सिंह के द्वारा नगर परिषद अध्यक्ष रामेश्वर कोल, उपाध्यक्ष प्रकाश पालीवाल की उपस्थिति में किया गया था। जिसके कुछ दिनों तक इसे सार्वजनिक उपयोग में दिया जाने लगा वही कुछ दिनों बाद इस भवन में नगर पालिका का कबाड़ रखा जाने लगा और नगर परिषद ने इसका ध्यान रखना भी छोड़ दिया। तबसे यह भवन जगह जगह से दरक चुका है। हालत यह है भवन के कई हिस्सों की कब वह भरभराकर गिर जाए और बड़ा हादसा हो जाये। मंगल भवन के रखरखाव न होने के कारण भवन की छतें जगह जगह से टूटती जा रही है।
वहीं दीवार भी नीचे से क्षतिग्रस्त होते जा रही है। छत के ऊपरी हिस्सो सहित दीवारें भी अपनी दुर्दशा की कहानी बया कर रहे है। छतों में लगे सरिया धीरे धीरे बाहर निकल आये है जो अव्यवस्था और अनदेखी को इशारा करते है। उल्लेखनीय है कि प्रत्येक रविवार को इस मंगल भवन के आसपास स्थानीय व ग्रामीण सब्जी विक्रेता सब्जी की दुकान लगाकर व्यवसाय करते है। यदि समय रहते इस भवन को व्यवस्थित या सुधार कार्य नही किया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। हम आपको बता दे कि मंगल भवन के बगल में नगर पालिका का स्टेज भी बना है जहाँ से कई कार्यक्रमो का आयोजन किया जाता है। ऐसा नही के भवन की दुर्दशा की कहानी किसी से छुपी हो यहां जनप्रतिनिधि सहित नगर पालिका के जिम्मेदार अधिकारियों का आना जाना होता है। इसके बाद भी कोई इसकी बदहाल स्थिति पर तरस नहीं खा रहा है।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned