जन सहयोग व मनरेगा से करें जल संरक्षण

जन सहयोग व मनरेगा से करें जल संरक्षण

ayazuddin siddiqui | Publish: May, 09 2019 09:30:00 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

ग्रीष्म काल में पेयजल समस्या निराकरण व पौधरोपण की करें तैयारी

उमरिया. जिले में जल संरक्षण व संवर्धन को लेकर जिला प्रशासन ने सजगता दिखाते हुए अधिकारियों को इसके बेहतर क्रियान्वयन के निर्देश दिए हैं। उन्होने कहा है कि ग्रीष्म काल में पेयजल संकट से छुटकारा दिलाने व वृक्षारोपण की तैयारी करें। कलेक्टर स्वरोचिश सोमवंशी ने जिला पंचायत मे संपन्न ग्रामीण विकास से जुड़े विभिन्न अधिकारियों की बैठक के दौरान कहा कि जल संरक्षण के लिए वर्तमान समय सबसे उपयुक्त है। जिले में जल संरक्षण एवं संवर्धन तथा प्रबंधन हेतु जन सहयोग एवं मनरेगा के माध्यम से तालाब जीर्णोद्धार के कार्य किए जाए। जिसमें जन भागीदारी सुनिश्चित कराई जाए। जिससे कि कार्य को आसानी से व निर्धारित समय में पूरा किया जा सके। जल संरक्षण व संवर्धन के कार्य में जन सहयोग मिलने की संभावना है। अभी से जल संरक्षण को लेकर कार्य करने से बरसात के पानी को संरक्षित किया जा सकता है।
पेयजल की मिल रही शिकायतें
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि वर्तमान समय में पेयजल से संबंधित शिकायते प्राप्त हो रही है। ग्राम पंचायत स्तर पर ही इन समस्याओं का निराकरण किया जा सकता है। जिन ग्राम पंचायतों में नल जल योजनाएं है तथा पानी सप्लाई हेतु एक ही पंप है वहां पंप की खरीदी की जा सकती है। जिससे आम जनता को पेयजल संकट का सामना न करना पड़े। यदि समस्यां का निराकरण पंचायत स्तर पर संभव नही है तो संबंधित सीईओ जनपद , एसडीएम और वहां भी निराकरण नही हो तो सीईओ जिला पंचायत या कलेक्टर के माध्यम से समस्यां का निराकरण कराया जाए।
जल संरक्षण के वर्षा से पूर्व कार्य हों पूर्ण
कलेक्टर ने कहा कि जिले में जल संरक्षण के कार्यो की आवश्यकता है। जन भागीदारी तथा मनरेगा मद से ये कार्य प्रारंभ किए जाए, किंतु इस बात का ध्यान रखा जाए कि कार्य वर्षा के पूर्व पूर्ण हो जाए। इसी तरह कपिलधारा कूप , निर्मल नीर आदि के कार्य जो पूर्व से संचालित है , को पूर्ण कराने की मुहिम छेड़ी जाए। आपने बरसात के दौरान किए जाने वाले वृक्षारोपण हेतु स्थल चयन तथा गढ्ढा खोदाई का कार्य भी कराने के निर्देश दिए। जिससे कि लोगों को जल संकट से निजात मिल सके।
समन्वित रूप से करेंगे कार्य
जिले में राजस्व एवं ग्रामीण विकास विभाग समन्वित रूप से कार्य करेंगे। सभी एसडीएम जनपद स्तर पर आयोजित बैठकों में कार्यो की मानीटरिंग करेगे। साथ ही समस्याओं का भी निराकरण सुनिश्चित करायेगे। बैठक में जिला पंचायत सीईओ दिनेश मौर्य,एसडीएम बांधवगढ नीलांबर मिश्रा, एसडीएम मानपुर अनुराग ंिसह, एसडीएम पाली दीपक चौहान, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन , ग्रामीण यांत्रिकीय सेवा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय, मुख्य नगर पालिका अधिकारी उमरिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचाय पाली, करकेली, मानपुर तथा जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मिश्रा, उपस्थित रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned