कुपोषण और दगना के खिलाफ दिलाया संकल्प

कुपोषण और दगना के खिलाफ दिलाया संकल्प

ayazuddin siddiqui | Publish: May, 09 2019 09:00:00 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

सुन्दर दादर में पीएलए की हुई सामुदायिक बैठक

बिरसिंहपुर पाली. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम के अन्तर्गत संचालित पी एल ए कार्यक्रम एकजुट संस्था के मार्ग दर्शन मे सहारा मंच के द्वारा सामुदायिक बैठक पाली विकास खंड के सुदुर ग्राम सुन्दर दादर मे आयोजित की गयी , इस कार्यक्रम मे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पाली से बी पी एम जियाउद्दीन खान ,पाली की बी सी एम पूजा महोबिया, सेक्टर प्रभारी संतोष एन एम कुरैशा बेगम उपसरपंच गीता सिंह , पंचायत सचिव विनय परस्ते पंच बबली सेन ,पंच ललन नायक ,तदर्थ समिति अध्यक्ष की नान बाई आशा सहयोगनी नीता गुप्ता, आशा सरोज सिंह , चंपा सिंह ,सेहत सखी कमला सिंह ,आशा सिंह के साथ आस पास की आशा, सेहत सखी एवं सैकड़ों लोगों ने कार्यक्रम में भाग लिया। कार्यक्रम की शुरूआत मां वीणावादिनी के समक्ष दीप जलाकर उपसरपंच गीता सिंह एवं विनय ने किया। पी एल ए कार्यक्रम का परिचय आशा सहयोगनी नीता गुप्ता ने देते हुए जन समुदाय को बताया कि मां और शिशु को लेकर गांव गांव मे सहभागी सीख क्रियान्वयन बैठको का आयोजन किया जा रहा है। इसी कडी मे आज आपके गांव में आठवीं बैठक सामुदायिक बैठक के रुप में आयोजित की गई हैं। इस बैठक में अब तक की सभी बैठको की झलक खेल के माध्यम से दिखाई जायेगी। इन बैठको से समाज को मां और शिशु को हर हाल मे बचाने की शिक्षा दी जा रही हैं। तत्पश्चात मंचीय कार्यक्रम किया गया जिसमें क्रम वार बैठक की गई । कार्यक्रम को लोक लुभावन बनाने के लिए बीच बीच मे लोक नत्य करमा और ग्रामीण लोक गीतों की अद्भुत प्रस्तुति गांव वालों ने करते हुए इस आयोजन की सुन्दरता को दुगुणित कर दिया। कार्यक्रम के आखिरी सत्र में जन समुदाय को संबोधित करते हुए बी सी एम ने कहा कि यह आयोजन हम सबको खेल के माध्यम से प्रेरणा देता है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से चलाये जा रहे इस अभिनव अभियान में आप जुड़े और अपने गांव को स्वास्थ्य संम्बन्धित समस्याओ से मुक्त करने का संकल्प लें। जन समुदाय को संबोधित हुए संतोष ने कहा कि अभी भी गांवों में छोटी छोटी बीमारियों के कारण मौतों की खबर आती हैं जो कि लापरवाही के कारण होती हैं। अगर समय पर आप उपचार के लिये पहुंचे तो असमय मौतें टाली जा सकती हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बी पी एम जियाउद्दीन खान ने कहा कि अभी भी समाज मे दो तरह की समस्या दीवार बन कर खडी हैं एक तो शिशुओं के दागना और कुपोषण ,ये दोनों ही समस्या के लिए हम दोषी है । माचिस की तीली जलाते समय अगर थोड़ी जल जाने से हमें तकलीफ होती है और हम एक शिशु को कहीं चूडी गरम करके तो कहीं लोहे की सलाखों से दाग देते है जिससे अबोध शिशु उस पीडा को सहन नही कर पाता और उसकी मौत हो जाती हैं इसके लिए हम स्वयं जिम्मेदार हैं । जिस बीमारी के लिए यह आप इस कुप्रथा को बढावा दे रहे है उसका इलाज मुफ्त में मिलता है फिर भी हम नहीं मान रहे। अब ठान ले कि आज के बाद ऐसा नहीं करेंगे। इसी तरह कुपोषण की समस्या है जो सहजता से दूर की जा सकती हैं ,जरूरत है उसके समाधानो को समझने की। आपके आसपास सब चीजें उपलब्ध हैं जिससे इस समस्या से उबरा जा सकता हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned