मंत्री पर सरपंच के गंभीर आरोप, बोला- 10 साल से प्रताड़ित कर रही हैं मंत्री, परिवार के साथ करुंगा आत्मदाह

भाजपा के शासनकाल में बीजेपी समर्थित सरपंच ने बीजेपी विधायक और कैबिनेट मंत्री मीना सिंह पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए राष्ट्रपति से मांगी इच्छामृत्यु..

By: Shailendra Sharma

Published: 08 Aug 2020, 04:20 PM IST

उमरिया. उमरिया जिले के मानपुर की करौंदी टोला पंचायत के सरपंच सुरेश सिंह उर्फ मुन्ना सिंह ने मध्यप्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री मीना सिंह पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए हैं। पीड़ित सरपंच ने कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम इच्छामृत्यु का आवेदन दिया है। सरपंच सुरेश सिंह का कहना है कि बीते 10 साल से मीना सिंह उसे तरह से प्रताड़ित कर रही हैं।

 

sarpanch_4.jpg

इच्छामृत्यु मांगी, परिवार समेत आत्मदाह की चेतावनी
पीड़ित सरपंच सुरेश सिंह ने कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम इच्छामृत्यु का एक आवेदन दिया है औऱ ये भी कहा है कि अगर 2 अक्टूबर से पहले उनकी समस्या का निराकरण नहीं किया गया तो वो कलेक्ट्रेट परिसर में ही परिवार के साथ आत्मदाह कर लेगा। सुरेश सिंह कई पंचवर्षीय से सरपंच हैं और जनपद उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। सुरेश सिंह ने मंत्री मीना सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा है कि पिछली पंचवर्षीय में उनकी पत्नी गांव की सरपंच थी और इस पंचवर्षीय में वो गांव के सरपंच हैं। बीजेपी विधायक और कैबिनेट मंत्री मीना सिंह उसे बीते 10 साल से प्रताड़ित कर रही हैं। पिछली पंचवर्षीय में मानपुर बस स्टैंड पर सैकड़ों लोगों के सामने उसके साथ मीना सिंह ने गाली गलौच तक की थी जिसकी शिकायत उसने थाने में की थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब मंत्री मीना सिंह ने अपने आदिवासी रिश्तेदारों की मदद से मेरे पट्टे की जमीन जुतवा ली है। बार-बार पंचायत की शिकायत की जा रही है उन्हें धमकी दी जा रही है जिसके कारण एक-एक दिन गुजारना उनके लिए मुश्किल हो रहा है। साथ ही सरपंच ने खुद पर लगाए जा रहे भ्रष्टाचार के झूठे आरोपों को साबित करने की चुनौती देते हुए ये भी कहा है कि उसकी पंचायत के कामों की जांच करा ली जाए और विधानसभा की सभी पंचायतों की भी जांच करा लें अगर उनकी पंचायत का काम दूसरी पंचायतों से अच्छा न निकले तो उसे सजा दे दें।

 

meena.jpg

मंत्री मीना सिंह ने नकारे आरोप
एक तरफ जहां सरपंच मंत्री मीना सिंह पर गंभीर आरोप लगा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ मंत्री मीना सिंह ने सरपंच सुरेश सिंह के आरोपों की निराधार बताया है। मीना सिंह का कहना है कि इस मामले में मेरा कोई लेना देना नहीं है वहीं दूसरी ओर वह भी कह रही हैं कि वो सुरेश सिंह भाजपा का नहीं है और उन्हें गांव वालों से इस बात की शिकायत मिली है कि सरपंच सुरेश सिंह ने मेढ़ बंधान, खेत तालाब का पैसा मजदूरों के नाम से निकाला है।

 

congress.jpg

कांग्रेस ने ली पूरे मामले पर चुटकी
भाजपा समर्थित सरपंच के सरकार की मंत्री पर गंभीर आरोप लगाने के बाद कांग्रेस ने भी मामले में चुटकी ली है। मानपुर जनपद के अध्यक्ष रामकिशोर चतुर्वेदी ने कहा है कि भाजपा के कार्यकाल में भाजपा की मंत्री से भाजपा कार्यकर्ता स्वयं प्रताड़ित हैं और ये कोई पहला मामला नहीं है ऐसे कई कार्यकर्ता हैं जो भाजपा से प्रताड़ित हैं लेकिन मंत्री के खिलाफ कोई बोलना नहीं चाहता लोग इनसे भय खाते हैं। उन्होंने कहा कि सुरेश सिंह लगातार कई साल से सरपंच है अगर उसने और उसकी पत्नी ने काम नहीं किया होता तो उसे गांव वाले लगातार सरपंच क्यों बनाते।

देखें वीडियो-

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned