बाइक से शव ले जाने के मामले में बैठाई जांच

मानपुर अस्पताल को मिला शव वाहन

By: ayazuddin siddiqui

Published: 13 May 2021, 10:19 PM IST

उमरिया. मरीज का इलाज नहीं किए जाने व मृत्यु हो जाने पर शव वाहन उपलब्ध न होने पर मृतक के शव को मोटर साइकिल में ले जाने के मामले की जांच के निर्देश कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव द्वारा दिए गए हैं। जिसके लिए एसडीएम मानपुर सिद्धार्थ पटेल को अध्यक्ष एवं डॉ. बी के प्रजापति सिविल सर्जन जिला अस्पताल उमरिया को सदस्य बनाया है। दल को जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। पतौर निवासी सहजन कोल 35 वर्ष पिता छोटकनी को पेट दर्द की शिकायत होने पर मानपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद बिगडती हालत को देखकर उसे जिला चिकित्सालय उमरिया के लिए रेफर कर दिया गया। इसी दौरान उसकी मौत हो गई। मौत के बाद उन्होने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से शव ले जाने शव वाहन की मांग की लेकिन स्वास्थ्य अमले द्वारा शव वाहन न होने की बात कही गई। जिस पर परिजनो द्वारा शव को बाईक से ले जाया गया।
कांग्रेस ने सरकार पर साधा निशान
शव को ले जान के लिए शव वाहन उपलब्ध न कराये जाने के घटना की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की है। जिला कांग्रेस कमेटी के सह जिला प्रवक्ता वरूण नामदेव ने बताया कि शव वाहन उपलब्ध न कराये जाने के कारण जवान युवक की मौत से बेहाल परिजनो को उसका शव बाइक से ले जाना पड़ा।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned