नगर पालिका जनता को पिला रही गंदा पानी

नगर पालिका जनता को पिला रही गंदा पानी

ayazuddin siddiqui | Publish: May, 02 2019 10:00:00 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम व तहसीलदार ने किया प्लांट निरीक्षण

उमरिया. कहते हैं जल ही जीवन है। लेकिन नपा उमरिया यहां पर अपने नगर वासियों की सेहत का दुश्मन बन गया है। आप जिस पानी में एक रत्ती कचरा दिख जाने पर वह पानी कभी नहीं पीते पर जो नगर पालिका आपको पानी पिला रही। उस टंकी का हाल अगर आप अपनी आंखों से देख ले तो निश्चित ही आप नपा का पानी
त्याग देंगे।
मामला जिला मुख्यालय के उमरिया नगर पालिका का है जिसमें नपा की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बताया जाता है कि यहां 21 मार्च से ब्लीचिंग पाउडर खत्म है और नगर पालिका आपको बिना ब्लीचिंग पाउडर के ही पानी पिला रही है। आप अगर इस बात को इस प्रकार कहें कि नगरपालिका आप को धीमा जहर पिला रही है तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। जिले के कलेक्टर को जब इस घोर लापरवाही की भनक लगी तो उन्होंने तत्काल टीम गठित कर औचक निरीक्षण करवाया और टीम ने नगर पालिका फिल्टर प्लांट पहुंचकर स्थिति देखी तो वह भी दंग रह गई बताया जाता है कलेक्टर के निर्देश पर बांधवगढ़ एसडीएम, तहसीलदार सहित आधा दर्जन से अधिक अधिकारी फिल्टर प्लांट पहुंचे तो उन्होंने देखा कि ब्लीचिंग पाउडर का स्टॉक 21 मार्च से नहीं है । मतलब साफ है की बिना ब्लीचिंग पाउडर के पानी पिलाया जा रहा है।
ब्लीचिंग पाउडर का इस्तेमाल बैक्टीरिया व कीटाणुओं को नष्ट करने के लिए किया जाता है इसका उपयोग किए बिना पानी शुद्ध नहीं माना जाता इसके इस्तेमाल हैजा ,पीलिया ,डायरिया सहित अन्य संक्रमित बीमारियों को दूर रखने के लिए किया जाता है इसका इस्तेमाल ना होने से इन बीमारियों का खतरा तेजी से बढ़ जाता है मतलब साफ है नपा आप को पानी दे रहा शुद्धता आप खुद जाने ।

नहीं हुई महीनों से पानी की जांच
आप अपनी सेहत का जितना भी ख्याल रख ले पर नपा आपकी सेहत को बिगाडऩे में उससे कहीं आगे हैं मार्च से आपको बीमारियों में धकेलने वाला पानी पिलाने वाली नपा की लापरवाहीयां आगे भी है सूत्र बताते हैं नपा द्वारा महीनों से फिल्टर प्लांट पानी की जांच नहीं कराई गई जबकि है जांच हर माह होनी चाहिए। सूत्र तो यह भी बताते हैं कि कलेक्टर द्वारा कराये गए औचक निरीक्षण के बाद अपनी कारगुजारियों छिपाने के लिए पुरानी तारीखों में पानी जांच के कागज तैयार किए गए। हालांकि इसमें क्या सही है यह तो जांच का विषय है यही नहीं औचक निरीक्षण में और भी कई अनियमितताएं पाई गई कलेक्टर को सौंपी गई जांच रिपोर्ट में इनका वर्णन किया गया है अब देखना यह है कि जिले के कलेक्टर नगर वासियों की जान से खिलवाड़ करने वालों पर क्या कार्यवाही करते हैं।
जल और स्वच्छता का अधिकार
भारत का संविधान अच्छे जीवन की गारंटी देता है अनुच्छेद 21 भारतीय नागरिकों के लिए जीवन के अधिकार को सुनिश्चित करता है समय-समय पर सुप्रीम कोर्ट और विभिन्न राज्यों के उच्च न्यायालयों ने यह व्याख्या की है कि जीवन का अधिकार हमारे संविधान में अंतर्निहित है माननीय न्यायालयों ने न सिर्फ शुद्ध पानी को मौलिक अधिकार की संज्ञा दी है बल्कि इसे सामाजिक परिसंपत्ति के रूप में भी परिभाषित किया है।
आखिर किस नींद में सो रही नपा
नगर पालिका उमरिया द्वारा नगर वासियों की जान से खिलवाड़ ही कहा जाना चाहिए कि ब्लीचिंग पाउडर, एलेन पाउडर व अन्य केमिकल का स्टॉक नगर पालिका को खरीदना व उपयोग करना है जब ब्लीचिंग पाउडर का उपयोग पानी को शुद्ध करने व कीटाणुओं को दूर करने के लिए किया जाता है तो उसका स्टॉक खत्म कैसे हो गया नगर पालिका के जिम्मेदारों ने समय पर इसकी खरीदारी क्यों नहीं की?
जल्द होगी कार्यवाही
कलेक्टर ने बताया कि हमें नगर पालिका उमरिया के फिल्टर प्लांट में ब्लीचिंग पाउडर ना होने व अन्य लापरवाही बरतने की शिकायत मिली थी हमने टीम भेजकर निरीक्षण करवाया है काफी अनियमितताएं सामने आई है जल्द ही कार्यवाही की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned