आपसी द्वंद में बाघिन ने गंवाई जान, पेट्रोलिंग के दौरान मिला शव

पनपथ बफर जोन के जाजागढ़ क्षेत्र की घटना, सर्चिंग में जुटा अमला
पेट्रोलिंग के दौरान मृत मिली बाघिन

By: ayazuddin siddiqui

Published: 17 Feb 2021, 06:19 PM IST

उमरिया. बांधवगढ़ नेशनल पार्क के पनपथा बफर जोन अंतर्गत पेट्रोलिंग के दौरान बाघिन को मृत अवस्था में देखा गया। जिसकी सूचना पार्क के वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। सूचना पर मौके में पहुंचे पार्क प्रबंधन व अमले द्वारा शव का पीएम कराते हुए जलाकर नष्ट किया गया। प्रथम दृष्टया बाघिन की मौत का कारण आपसी द्वंद को बताया जा रहा है। बहरहाल पार्क प्रबंधन द्वारा मृत बाघिन के विभिन्न अवयवों का सेम्पल जांच के लिए लिया है। उप संचालक टाईगर रिजर्व बांधवगढ ने बताया कि 14 एवं 15 फरवरी 2021 की दरम्यानी रात्रि पनपथा बफर परिक्षेत्र की बीट जाजागढ के कक्ष क्र आरएफ 395 में भदार नदी के किनारे बंमरघाट मे बाघों की लडाई हुई। जिसकी आवाजें देर रात तक ग्रामीणों ने सुनी। सुबह सूचना मिलने पर जाजागढ़ पेट्रोलिंग कैंप के श्रमिकों द्वारा वन क्षेत्र में पेट्रोलिंग की गई तो मादा बाघ का शव देखा गया। जिसकी आयु लगभग 4 वर्ष अनुमानित है। लडाई के स्थान में बहुत अधिक मात्रा मे खून एवं लडने के स्पष्ट चिन्ह दिखाई दिए। घटना की सूचना मिलने पर स्थान की घेराबंदी कर डाग स्क्वायड को मौके पर भेजा गया। सूचना पर क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम, प्रभारी उप संचालक अनिल शुक्ला, वन्य जीव सहायक शल्यज्ञ डॉ अभय सेंगर, पशु चिकित्सक डॉ विनय पांडे, एनटीसीए के प्रतिनिधि सत्येन्द्र तिवारी, परिक्षेत्र अधिकारी वीरेन्द्र ज्योतिषी एवं परिक्षेत्र पनपथा बफर के अन्य कर्मचारियों की उपस्थिति में शव परीक्षण कराया गया। बताया जा रहा है कि मृत बाघिन के सभी नाखून व दांत यथावत मिले। शरीर पर अनेकों घाव, खोपड़ी की हड्डी टूटा होना तथा सांस नली कटा होना पाया गया। टीम द्वारा विभिन्न अवयवों के सैंपल एकत्रित किए गए। शव परीक्षण उपरांत समस्त अधिकारियों, वन्य जीव शल्यज्ञ तथा एनटीसीए के प्रतिनिधि की उपस्थिति में जलाकर पूर्णत: नष्ट किया गया। बाघिन की मृत्यु सूचना मुख्य वन्य प्राणी संरक्षक मध्य प्रदेश, एनटीसीए व अन्य संबंधितों को दी गई।

 

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned