योजना तैयार करने के लिए दिया प्रशिक्षण

योजना तैयार करने के लिए दिया प्रशिक्षण

ayazuddin siddiqui | Publish: Sep, 11 2018 05:33:13 PM (IST) Umaria, Madhya Pradesh, India

सभी वर्गों का होगा आकलन

उमरिया. जिले के समग्र एवं समावेशी विकास के लिए विकेन्द्रीकृत एवं एकीकृत की जिला योजना मे जनसामान्य की भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु कलेक्टर माल सिंह की अध्यक्षता में जिला योजना वर्ष 2019-20 के लिए विकेन्द्रीकरण एवं एकीकृत जिला योजना तैयार करने की संबंधी प्रशिक्षण संपन्न हुआ। प्रशिक्षण में सीईओ जिपं आशीष वशिष्ट, जिला योजना अधिकारी सहित समस्त विभागो के अधिकारी उपस्थित रहे। प्रशिक्षण मे बताया गया कि नियोजन प्रक्रिया में समाज के सभी वर्गो विशेष अनुसुचित जाति, जन जाति महिलाओं, दिव्यांगों, वृद्धों की भागीदारी सुनिश्चित कर उनकी आवश्यकताओ का आकलन कर योजना का निर्माण करना है।
जिला स्तर पर प्रत्येक विभाग के अंतर्गत योजना निर्माण प्रक्रिया हेतु एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त किए जायेगे जो समय-समय पर आयोजित प्रशिक्षणों में विभाग द्वारा संचालित योजनाओं, कार्यक्रमों इत्यादि की जानकारी उपलब्ध करायेगे। विभाग के तकनीकी सहायता दल मे सम्मिलित सदस्यों को प्रस्तावित कैलेण्डर अनुसार योजना निर्माण हेतु उपस्थिति, फेसिलिटेशन हेतु निर्देश देना, विभागीय सामुदायिक गतिविधियों की कैनवासिंग (रिस्पांस) सुनिश्चित करना, गतिविधियो पर विभाग द्वारा उचित रिस्पांस सुनिश्चित करना तथा स्वीकृत गतिविधियों का क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने हेतु नोडल अधिकारी का दायित्व होगा।
कलेक्टर ने बताया कि विकेन्द्रीकृत एवं एकीकृत जिला योजना वर्ष 2019-20 के तैयार कराने के लिए जिला स्तर पर सीईओ जिला ंपचायत एवं जनपद स्तर पर सीईओ जनपद पंचायत एवं नगरीय क्षेत्र में सीएमओ की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। जिला योजना तैयार करने की समय सीमा 30 सितंबर 2018 तक सुनिश्चित की गई है। इसी अनुरूप योजना को अपने अपने स्तर पर आनलाइन फीडिंग करवाने का कार्य भी किया जाएगा। मास्टर ट्रेनर्स बीआरसी एस के गौतम बीईओ करकेली एवं चक्रपाणि त्रिवेदी अन्वेषक जिला योजना ने विकेन्द्रीकरण एवं एकीकृत जिला योजना तैयार करने संबंधी विस्तृत एवं उपयोगी प्रशिक्षण प्रदान किया। विभाग के तकनीकी सहायता दल मे सम्मिलित सदस्यों को प्रस्तावित कैलेण्डर अनुसार योजना निर्माण हेतु उपस्थिति, फेसिलिटेशन हेतु निर्देश देना, विभागीय सामुदायिक गतिविधियों की कैनवासिंग (रिस्पांस) सुनिश्चित करना, गतिविधियो पर विभाग द्वारा उचित रिस्पांस सुनिश्चित करना तथा स्वीकृत गतिविधियों का क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने हेतु नोडल अधिकारी का दायित्व होगा।

Ad Block is Banned