बालश्रम रोकने गांव-गांव कर रहे संवाद, फैला रहे जागरूकता

राष्ट्रीय युवा संगठन व जेनिथ यूथ फाउंडेशन का कार्यक्रम

By: ayazuddin siddiqui

Published: 31 Jul 2021, 05:39 PM IST

उमरिया. सेव द चिल्ड्रन, बाल श्रम विरोधी अभियान मध्यप्रदेश के संयुक्त तत्वाधान में आकाशकोट के गांव गांव राष्ट्रीय युवा संगठन व जेनिथ यूथ फाउन्डेशन द्वारा जागरूकता गोष्टी का आयोजन किया जा रहा है। जिसमे मुख्यरूप से बच्चे व ग्रामीण शामिल हो रहे है। कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए अजमत भाई ने बताया के अभियान का मुख्य उद्देश्य बाल श्रम को रोकने समुदाय में जागरूकता फैलाना है। इस अभियान में बालश्रम से बच्चो के शारीरिक और मानसिक विकास जो अवरुद्ध होता है उसकी भी जानकारी साझा कर रहे है। इस अभियान में यह भी बात की जा रही है कि बच्चो से मजदूरी करवाना उनके अधिकारों का हनन है साथ ही गैर क़ानूनी भी है। कोरोना महामारी के दौरान स्कुल बंद होने से बच्चों से परिवार कि आजीविका में सहयोग करने के बहाने मजदूरी कराया जा रहा है। स्कुल बंद है लेकिन बच्चो को शिक्षण शुरु रहना चाहिए। पलकों को बताया कि बालश्रम अपराध तो है ही, हम अपने बच्चो का भविष्य भी खतरे में डाल रहे है। इन्हे अच्छी शिक्षा-स्वस्थ्य और अच्छा वातावरण मिलना चाहिए।
जेनिथ के साथी संपत ने कहा कि सरकार द्वारा बाल कल्याण समिति बनाई गई है। जहां बच्चो से सम्बंधित कोई भी दिक्कत होने पर 1092 में कॉल कर सुचना दे सकते है।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned