समिति से भण्डारण के लिए आया गेहूं रिजेक्ट

समिति से भण्डारण के लिए आया गेहूं रिजेक्ट

ayazuddin siddiqui | Publish: Jun, 16 2019 10:15:00 AM (IST) Umaria, Umaria, Madhya Pradesh, India

गेहूं खरीदी को लेकर समितियां संदिग्ध, सगरा ओपन भण्डारण कैप में पकड़ा गया फर्जीवाड़ा

उमरिया. कलेक्टर के सख्त निर्देशों के बाद भी उपार्जन केन्द्रों में समिति के कर्ताधर्ता किसानों के साथ छलने से बाज नहीं आ रहे। मंगलवार-बुधवार को मानपुर समिति व डोडका से खरीदे गए अनाज को क्वालिटी जांच में फेल कर दिया गया। गेहूं में घुन लगा हुआ है। जबकि मानपुर की समिति द्वारा कंकड़, पत्थर वाला गेहूं भेजा गया था। बताया जा रहा है कि ै कि समितियों के प्रबंधकों ने किसानों से अच्छा क्वालिटी वाला अनाज ब्लैक कर व्यापारियों का खराब माल यहां भेज दिया। वास्तविकता क्या है यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। अमानक अनाज की खरीदी का मामला प्रकाश में आने के बाद भी इसकी जांच प्रारंभ कर दी गई है। जानकारी अनुसार 24 मई को जिले में गेहूं की खरीदी खत्म हो चुकी है। एक सप्ताह के अंदर अनाज का भण्डारण हो जाना था लेकिन भण्डारण केन्द्र पहले से ही फुल हैं। इसलिए उनके खाली होने का इंतजार किया जा रहा है। इसी तारतम्यता में डोडका से गेहूं भेजा गया था। सगरा स्टोरेज पहुंचने पर 366 बोरी अनाज क्वालिटी में फेल मिला। इसी तरह मानपुर समिति का 131 बोरी अनाज अमानक मिला।
गरीब व किसानों से छलावा
समिति द्वारा भण्डारण के लिए अमानक गेहूं भेजे जाने का खुलासा होने के बाद नान व खाद्य विभाग द्वारा जांच कर गेहूं बदले जाने की बात कही जा रही है। इसके अलावा समितियों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया। वहीं ठीक इसके विपरीत गेहूं खरीदी में इतनी बड़ी मात्रा में खराब अनाज का मिलना खरीदी में की समिति द्वारा बरती गई लारवाही को उजागर करने वाली हैै। इस पूरे मामले ने समिति से लेकर मानीटरिंग व परिवहनकर्ता विभाग की कार्य प्रणाली पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं।
इनका कहना है
मानपुर व डोंडका समिति से आया गेहूं निर्धारित मापदण्ड के अनुसार नहीं पाया गया। उसे वापस कर साफ-सुथरा गेहूं जमा कराया जाएगा। मामले में नोटिस जारी कर समिति व स्थानीय अधिकारियों से जवाब मांगा गया है।
बीएस परिहार, जिला खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग, उमरिया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned