scriptWill educate children left out of studies by running a campaign for fi | पांच वर्ष तक अभियान चलाकर पढ़ाई से छूटे बच्चों को करेंंगे शिक्षित | Patrika News

पांच वर्ष तक अभियान चलाकर पढ़ाई से छूटे बच्चों को करेंंगे शिक्षित

पढऩा-लिखना कार्यक्रम की समीक्षा बैठक

उमरिया

Published: December 31, 2021 05:57:24 pm

उमरिया. शहरी क्षेत्रों में भले ही लगातार साक्षरता का प्रतिशत बढ़ रहा है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी ऐसे लोग हैं, जिन्हें बुनियादी शिक्षा भी नहीं मिली। इन्हीं निरक्षर लोगों को विशेष अभियान चलाकर साक्षर किया जायेगा। जिले में अब किसी भी विकासखण्ड और ग्रामीण अंचलों में रहने वाले व्यक्ति अब अनपढ़ नहीं रह पाएंगे। जिले में अब 5 वर्ष तक लगातार नवभारत साक्षरता अभियान प्रारंभ किया जा रहा है, जिसके लिए वर्ष 2022 से लेकर 2027 तक जिले में यह अभियान चलाया जायेगा।
कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में साक्षरता पढऩा-लिखना अभियान चलाया जायेगा। जिसके लिये राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार जिला स्तर व विकासखण्ड स्तर पर समितियों का गठन किया गया है। जिसे लेकर कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव की अध्यक्षता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ईला तिवारी के निर्देशन में डाईट उमरिया में समीक्षा बैठक हुई। बैठक में सभी सहयोगी विभाग जन अभियान परिषद, नेहरू युवा केंद्र, जन शिक्षण संस्थान, महिला एवं बाल विकास, एनआरएलएम, एनयूएलएम, एनएसएस विभाग उपस्थित रहे। बैठक में पढना, लिखना कार्यक्रम का संचालन कैसे करना है, इस बारें में निर्देश दिए गए। बैठक मे बताया गया कि कार्यक्रम 2022 से लगातार 2027 तक क्रमबद्ध तरीके से जिले में चलाया जायेगा। इसके लिए प्रारंभिक स्तर पर नगरीय केन्द्र, ग्राम केन्द्र में टीम द्वारा 15 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों का सर्वे किया जाएगा जो कि पहले घरेलू व किसी पारिवारिक कारणों के कारण पढ़ाई से वंचित रह गए थे। उनको इस नवभारत साक्षरता अभियान से जोड़ा जाएगा और इसके लिए नवभारत साक्षरता अभियान की पूरी जानकारी से अवगत कराने के बाद स्थानीय शिक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सर्वे करने की जिम्मेरदारी सौंपी जाएगी और इस अभियान का मुख्य उद्देश्य अनपढ़ों को बुनियादी शिक्षा, सांस्कृतिक शिक्षित बनाना है। सर्वे में चिन्हित असाक्षर महिला एवं पुरूषों को साक्षर करने का कार्य माह जनवरी 2022 के प्रथम सप्ताह से प्रारंभ कराया जाना प्रस्तावित है। असाक्षर को साक्षर करने का कार्य अक्षर साथी करेंगे।

Will educate children left out of studies by running a campaign for five years
Will educate children left out of studies by running a campaign for five years

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.