चौरी-चौरा घटना शताब्दी समारोह के दौरान गुमनाम शहीदों को मिलेगी पहचान, की गई तैयारी

- जिलाधिकारी ने जनपद स्तरीय कमेटी का गठन किया

- 15 दिन के अंदर कार्ययोजना प्रस्तुत करने के दिए निर्देश

By: Narendra Awasthi

Published: 25 Jan 2021, 11:38 PM IST

उन्नाव. चौरी चोरा का की ऐतिहासिक घटना शताब्दी समारोह एक वर्ष तक चलेगा। इस संबंध में जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बैठक का आयोजन किया। शताब्दी समारोह मनाए जाने के लिए जनपद स्तरीय कमेटी का गठन किया गया। 15 दिनों के अंदर 1 वर्षीय शताब्दी समारोह मनाने के संबंध में पूरी कार्ययोजना प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं। कार्य योजना में ऐसे शहीद स्थल जिनका स्मारक ना बना हो को शामिल करने के लिए कहा गया।

 

जनपद स्तरीय कमेटी का गठन

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने कहा कि जनपद में अमर शहीद स्मारक कौन-कौन से हैं। सभी स्मारकों की जानकारी ग्राम पंचायत स्तर से सूचना प्राप्त करें। ऐसे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जिनका तत्कालीन सरकार से स्वतंत्रता सेनानी की उपाधि नहीं प्राप्त है। उनको भी शामिल किया जाए और यह जनश्रुतियों के आधार पर विवरण तैयार किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि शहीद स्थल का पर यदि कोई स्मारक बकाया हो तो उसका विवरण एवं घटना के संबंध में प्रमाणिक साथ के साथ कार्य योजना तैयार की जाए।

 

मुख्य विकास अधिकारी को दिए निर्देश

उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में भारतीय स्वाधीनता आंदोलन से जुड़ी महत्वपूर्ण तिथि घटना और स्थलों के अनुसार पूरे वर्ष का कैलेंडर बनाया जाए। उप जिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए डीएम ने कहा कि लेखपाल के माध्यम से भी सूचना एकत्र करें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा. राजेश कुमार प्रजापति, अपर पुलिस अधीक्षक, जिला पंचायत राज अधिकारी, उप निदेशक कृषि, उप निदेशक सूचना, खादी एवं ग्रामोद्योग, जिला प्रोबेशन अधिकारी आदि मौजूद थे।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned