scriptBig accident in Unnao roadways bus rammed inside the truck | उन्नाव में बड़ा एक्सीडेंट, ट्रक के अन्दर घुसी बस, दो दर्जन यात्री गंभीर घायल | Patrika News

उन्नाव में बड़ा एक्सीडेंट, ट्रक के अन्दर घुसी बस, दो दर्जन यात्री गंभीर घायल

उन्नाव में भीषण सड़क हादसे में अब तक दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं. इस भीषण हादसे का प्रमुख कारण धुंध के साथ साथ और तेज रफ़्तार बताई जा रही है.

उन्नाव

Published: December 24, 2021 12:24:30 am

उन्नाव. उत्तर प्रदेश में कोहरे और धुंध के कारण होने वाले हादसों में बढ़ोत्तरी होने लगी है. जिसमें देर रात उन्नाव जिले में एक एक्सीडेंट हो गया. इसमें पेट्रोल पम्प के किनारे कड़ी ट्रक में पीछे से तेज रफ़्तार से आ रही सरकारी बस ने टक्कर मार दी.
accident-symbolic.jpg
ट्रक में पीछे से टक्कर मारने वाली बस की रफ़्तार इतनी तेज थी कि रोडवेज बस के परखच्चे उड़ गए. इस भीषण हादसे में दो दर्जन से ज्यादा लोग गंभीर घायल हुए हैं. जिससे आसपास लोगों के बीच अफरा तफरी मच गई.
उन्नाव जिले के सोहरामऊ थाने के पास पड़ने वाले पेट्रोल पम्प के पास ये भीषण हादसा हो गया. जिसके बाद राहगीरों ने पुलिस और एम्बुलेंस को सुचना दी. जहां से उन्हें हॉस्पिटल भेजा गया. घायलों में दर्जन भर लोगों को गंभीर चोट आई हैं. फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है.
आपको बताते चलें कि बढती हुई ठंढ में ऐसी घटनाएँ अक्सर होती रहती हैं. ऐसे में सभी को समय समय पर गाड़ियों की लाइट चेक कराने और रफ़्तार को कण्ट्रोल में रखने की सलाह दी जाती है. पिछले हफ्ते ही लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर एक कार का एक्सीडेंट हो चुका है. जिससे एक व्यक्ति की मौके पर ही मौट हो गई थी.
सरकारी खटारा बसे दौड़ रही सड़क पर

सरकारी बसों की सड़क दुर्घटना होना कोई नई बात नहीं है. इनकी हालत और खटारा बसों की मेंटिनेंस के नाम पर जो बिल बनाया जाता है. वो नई बसों को खरीदने से कहीं ज्यादा होता है. ऐसे में जनता की जान से खिलवाड़ ऊपर बैठे आला अधिकारी खुद भी करने से गुरेज नहीं करते हैं. वहीं प्राइवेट बसों में दो ड्राइवर लेकर चलने का जो नियम लागू कराया जाता है. ऐसे किसी भी नियम का पालन सरकारी बसों में होता दिखाई नहीं देता है.
इसके भी पहले बाराबंकी और कुशीनगर-महराजगंज जा रही बस का हादसा हुआ था. जिसमें दर्जनों लोगों की मृत्यु हो गई थी. साथ ही कई दर्जनों यात्री गंभीर घायल भी हुए थे.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.