scriptCheat other, himself became victim of fraud | उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार | Patrika News

उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार

ऐप के माध्यम से लोगों को लोन देकर ठगने का काम करने वाले लोगों के लिए बुरी खबर। वहीं लोन लेने वालों के लिए यह खबर अच्छी हो सकती है कि किस प्रकार एक युवक ने ठगने के लिए बनाए गए ऐप के माध्यम से उसे ही ठग लिया। युवक ने थाने में तहरीर देकर मामले की जानकारी दी है। पुलिस सर्विलांस के माध्यम से ऐप संचालक की तलाश कर रही है।

उन्नाव

Published: June 11, 2022 09:18:56 pm

ऐप के माध्यम लोन देने का मामला सामने आया है। जिसमें लोन देने के बाद ऐप का संचालक अपने पैसे की वापसी के लिए फोन पर फोन कर रहा है। अब उसका खुद का पैसा फंसा नजर आ रहा है। इधर ऐप के माध्यम से लोन लेने के बाद सावधान हुए युवक ने पुलिस को पूरे मामले की जानकारी देते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है। पुलिस ने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से ठगी का कार्य करने वाले युवक की तलाश की जाएगी। दूसरी तरफ लोन देने वाला युवक को फोन कर तरह-तरह की धमकी दे रहा है।

उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार
उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार,आईएएस अधिकारी आरुषि मलिक ने कहा कि लोक देवताओं को जाति-समाज में नहीं बांटें।,आईएएस अधिकारी आरुषि मलिक ने कहा कि लोक देवताओं को जाति-समाज में नहीं बांटें।,उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार,उल्टा पड़ा दांव: ऐप के माध्यम से दूसरों को ठगने वाला खुद हुआ ठगी का शिकार

मामला ऐप के माध्यम से लोन देने का है। इस संबंध में सदर कोतवाली क्षेत्र का रहने वाला युवक की ऋषभ बाजपेई ने ऐप के माध्यम से 4 दिन के लिए ब्याज पर ₹11 हजार लोन लेने का ऑफर था। ऋषभ ने ऐप की शर्तों के अनुसार लोन के लिए आवेदन किया। जिसमें उन्होंने आधार कार्ड और बैंक अकाउंट नंबर लिया था। ऐप की तरफ से ₹4816 ऋषभ के खाते में भेज दिए गए। बातचीत 1 दिन के लिए लोन लेने का था। ऋषभ ने 5 जून को लोन लिया था और 6 जून को उसे ब्याज समेत लौटा देना था।

शंका होने पर उसने उठाया यह कदम

इसी बीच सर्विलांस के माध्यम से लोगों को ठगने वाले ने ऋषभ से ओटीपी की जानकारी देने की मांग की। जिस पर ऋषभ को शंका हुई और उसने सबसे पहले अपने बैंक अकाउंट की धनराशि को सुरक्षित किया और ऐप को डिलीट कर दिया। ऐप संचालक की तरफ से ऋषभ को एक ओटीपी भेजा। लेकिन ऋषभ ने अब लेनदेन करने से मना कर दिया। इस पर ऐप संचालक की तरफ से ऋषभ को धमकी मिलने लगी। ऋषभ ने सदर कोतवाली में तहरीर देकर घटनाक्रम की जानकारी दी। इस संबंध में सदर कोतवाली प्रभारी ने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से ठगों को पकड़ने का प्रयास किया जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.