scriptCM order, FIR against half a dozen college management | चयन बोर्ड से मिला था नियुक्ति पत्र...अब सीएम के आदेश पर मुकदमा दर्ज | Patrika News

चयन बोर्ड से मिला था नियुक्ति पत्र...अब सीएम के आदेश पर मुकदमा दर्ज

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड प्रयागराज द्वारा नियुक्ति पत्र दिया गया था। लेकिन कॉलेज प्रबंधन द्वारा कार्यभार ग्रहण नहीं कराया गया। शिकायत मुख्यमंत्री तक पहुंची तो प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया। डीआईओएस ने आधा दर्जन कालेज प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

उन्नाव

Updated: April 26, 2022 08:25:29 pm

टीजीटी परीक्षा बात करने और चयन बोर्ड से नियुक्ति पत्र मिलने के बाद भी प्रबंध तंत्र ने कार्यभार ग्रहण नहीं कराया। अभ्यर्थी कॉलेज से लेकर डीआईओएस कार्यालय के चक्कर लगा रहे थे। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इस पर महिला अभ्यर्थी ने मुख्यमंत्री दरबार में पहुंचकर शिकायत की। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को तत्काल नियुक्त करा कर जानकारी देने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री का आदेश आते ही प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया। डीएम ने डीआईओएस को तत्काल शेष बचे सभी को नियुक्त कराने का निर्देश दिया। नियुक्ति न कराए जाने पर डीआईओएस ने आधा दर्जन कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ संगत धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया।

चयन बोर्ड से मिला था नियुक्ति पत्र...अब सीएम के आदेश पर मुकदमा दर्ज

मुख्यमंत्री के आदेश और डीएम के निर्देश के बाद भी आधा दर्जन कॉलज प्रबंधन ने अभ्यर्थियों की नियुक्ति नहीं किया। डीआईओएस की तहरीर पर रवि शंकर मिश्र प्रबंधक डीसी के एम इंटर कॉलेज उन्नाव, जितेंद्र बहादुर सिंह आरबीएस इंटर कॉलेज बिहार, उर्मिला सिंह भगवान बक्श सिंह इंटर कॉलेज वाजिदपुर उन्नाव, मनोज प्रताप सिंह महात्मा गांधी इंटर कॉलेज पाटन, इंदू सिंह प्रबंधक स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज निहाली खेड़ा, कृष्णानंद अवस्थी प्रबंधक आदर्श इंटर कॉलेज पाठकपुर असोहा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। जिनके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और 332 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कराया गया है जिला विद्यालय निरीक्षक राजेंद्र कुमार पांडे ने यह मुकदमा दर्ज कराया है। इसके साथ ही उन्होंने डीएम,एसपी, सीडीओ को भी संबंध में जानकारी दी है।

खूब दौड़ाया गया

आपको बता दें नियुक्ति पत्र निर्गत होने के बाद भी अभ्यर्थियों को उपरोक्त प्रबंधकों की तरफ से उन्हें दौड़ाया जा रहा था। कार्यभार नहीं दिया जा रहा है। इस संबंध में अभ्यर्थियों ने जिला विद्यालय निरीक्षक के साथ डीएम को भी शिकायती पत्र दिया था। इसके बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। अभ्यर्थी मुख्यमंत्री से शिकायत करने पहुंचे। मुख्यमंत्री के फोन के बाद जिला प्रशासन की आंखें खुली और आनन फानन आज आधा दर्जन प्रबंधकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.