कट्टा दिखाकर महिला को बनाया हवस का शिकार

थानाध्यक्ष ने बताया मामला दर्ज कर लिया गया

By:

Published: 19 May 2018, 09:30 PM IST

उन्नाव. घर के दरवाजे पर सिटकनी बजती है। महिला ने सोचा दरवाजे पर पति खड़ा है। जैसे ही उसने दरवाजा खोला दो लोग धड़धड़ाते हुए घर के अंदर घुस गए और एक ने कट्टा तो दूसरे ने तब्बल लगाकर तखत पर गिरा दिया। कानून से भय हीन हो चुके दबंग लोगों ने दलित महिला को अपनी हवस का शिकार बनाया। घटना के समय महिला घर में अकेली थी। जाते जाते दबंगों ने महिला को धमकी देना नहीं भूले जान से हाथ धोना पड़ेगा। दलित महिला ने अपने पति के साथ थाना पहुंचकर तहरीर दी और पुलिस को अपनी आपबीती सुनाई। महिला ने गांव के ही दो लोगों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस में मामला दर्ज कर लिया है। इस संबंध में थाना अध्यक्ष फतेहपुर 84 ने बताया कि पीडि़त महिला की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया।

घटना फतेहपुर 84 थाना क्षेत्र की है। पीडि़त महिला ने बताया कि रात में लगभग 3:00 बजे दरवाजे की कुंडी खटकती है। उन्होंने सोचा कि उनके पति आए। जो भूसा डालने के लिए गए थे जब मैंने दरवाजा खोला तो गांव के ही दो लोग जबरदस्ती अंदर घुस गए। एक ने तमंचा लगाया तो दूसरे ने तब्बल लगाकर उसे तखत पर गिरा दिया और जबरन उसके साथ गलत काम किया। पीडि़ता ने बताया कि जाते-जाते दोनों ने धमकी दी और कहा कि किसी को बताया तो जान से मार देंगे। उनके जाने के बाद शोर मचाने पर पड़ोसी आ गए। इसी बीच सुबह पीडि़ता का पति भी घर पहुंचा। तब उसे घटना की जानकारी हुई। पीडि़ता के पति ने बताया कि घटना के समय वह भूसा डालने के लिए गया था। सुबह जब वापस आया तो उसे घटना की जानकारी मिली। उन्होंने बताया कि गांव के ही रहने वाले शिवनारायण पुत्र केशव और लाल चंद पुत्र बुद्धा ने बारी-बारी से उसकी पत्नी के साथ दुष्कर्म किया। घटना के समय उनकी बेटियां दूसरे मकान में सो रही थीं। शोर सुनकर वह भी आ गर्इं। थाना अध्यक्ष फतेहपुर 84 ने बताया कि पीडि़त महिला की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned