झील में डूब कर दो मासूम चचेरी बहनों की मौत

झील में डूब कर दो मासूम चचेरी बहनों की मौत
Death of two sisters drowning in lake

Shatrudhan Gupta | Publish: Sep, 23 2017 10:39:46 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

झील में धरती के अंदर पाए जाने वाले सेरूका निकालने के समय गहरे पानी में डूबी।

उन्नाव. भैंस चराने के दौरान झील में धरती के अंदर पाए जाने वाले सेरूका को निकालने गई दो मासूम चचेरी बहनों में से एक गहरे पानी में डूबने लगी। जिसे बचाने गई दूसरी बहन भी उसी के साथ गहरे पानी में डूब गई। मौके पर गए किशोर की सूचना पर मौके पर पहुंचे ग्रामीण व परिजन ने गहरे पानी में उतर कर दोनों को खोजने का प्रयास किया। काफी मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने दोनों को बाहर निकाला। आनन-फानन उन्हें पूरवा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दोनों की मौत से परिजनों में व गांव में मातम छा गया। उनका रो रो कर बुरा हाल है। पानी में डूब गई दर्दनाक मौत हो गई। कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कोतवाली प्रभारी पुरवा ने बताया कि दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

गांव में शोक की लहर दौड़ गई

मामला पुरवा कोतवाली के सभागा व भूपतिपुर के मध्य स्थित टिकला तालाब का है। रोज की तरह दोपहर में भैंस चराने गई पूजा (12) पुत्री राधेलाल, व मोनी (12) पुत्री दिनेश भैसो को चराने के लिए ले गए थी। थोडी देर बाद उनकी भैसे टिकला झील की तरफ चली गई। इसी बीच दोनों झील के नीचे धरती के अंदर पायी जाने सेरूका निकालने के लिये चली गई। उसी समय एक बहन डूबने लगी। डूबते बक्त दूसरी बहन बचाने गई। जिससे दोनों बहने गहरे पानी में चली गई। साथ गये किशोर ने देखा तो शोर मचाया। किशोर ने भाग कर यह जानकारी परिजनों को दी।

एक साथ दो घरों के लक्ष्मी की डूब कर मौत

सूचना पाकर मौके पर पहुंचे ग्रामीण व परिजन ने गहरे पानी में उतर कर दोनों को खोजने का प्रयास किया। काफी देर व मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने दोनों को बाहर निकाला। दोनों पूरवा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना पर गांव में मातम छा गया। एक साथ दो घरों के लक्ष्मी की डूब कर मौत हो गई। राधेलाल व दिनेश सगे भाई है। पूजा के भाईयों में राम गोपाल, महिपाल, राम मोहन, राज कुमार, मदन व मोनी के बहन-भाईयों में रागिनी, सविता, सचिन, अर्चना आदि है। पूजा व मोनी चचेरी बहने थी। दर्दनाक हादसे के बाद गांव में शोक की लहर दौड़ गई। कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned