बस और बोलेरो की भीषण टक्कर, चार लोगों की हुई दर्दनाक मौत, सड़क पर मचा कोहराम

उन्नाव-लाल कुआं-भोजपुर मार्ग पर बस और बोलेरो की आमने-सामने हुई जबरदस्त टक्कर में बोलेरो के परखच्चे उड़ गए...

उन्नाव. उन्नाव-लाल कुआं-भोजपुर मार्ग पर बस और बोलेरो की आमने-सामने हुई जबरदस्त टक्कर में बोलेरो के परखच्चे उड़ गए। दुर्घटना के बाद मौके पर कोहराम मच गया। सवारियां खून से लथ-पथ हो गई। चारों तरफ से चीख पुकार की आवाजें की आवाज़ आ रही थी। घटना के बाद मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच गए। जिन्होंने राहत और बचाव कार्य शुरू किया। बस और बोलेरो की टक्कर में दो लोगों की मौके पर मौत हो गई। जबकि लगभग एक दर्जन घायल हो गए। घायलों में कई की हालत गंभीर थी। वहीं सूचना मिलते ही स्थानीय थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। सभी घायलों आनन फानन स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां से उनकी गंभीर हालत को देखते हुए जिला अस्पताल रिफर कर दिया गया। घटना की जानकारी मिलते ही मृतक परिजनों के घर में कोहराम मच गया घर में कोहराम मच गया। मरने बालों में सभी औरास के थे। जो ट्रेनिंग करके वापस अपने घर आ रहे थे।

 

मरने वाले औरास थाना क्षेत्र के

घटना बारा सगवर थाना क्षेत्र की है। बारा सगवर थाना क्षेत्र के नरोत्तम पुर के पास उन्नाव से भोजपुर की तरफ जा रही उन्नाव डिपो की बस और बोलेरो में टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बोलेरो के परखच्चे उड़ गए। जिससे उसमे बैठी सवारियों में गया प्रसाद यादव, मुंशी लाल यादव, पंकज यादव, सोनम सहित कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए स्थानीय बीकापुर स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।.जहां उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल मैं भी डॉक्टरों ने घायलों की गंभीर स्थिति को देखते हुए हैलट रिफर कर दिया है। घायलों में कई की हालत चिंताजनक बताई जाती है। वहीं अब तक चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में गया प्रसाद, मुंशीलाल, पंकज, सोनम निवासीगण ढकोली औरास शामिल है।

 

घर में हो रहा था अपनों का इंतजार, मिली मौत की खबर

घायलों ने बताया कि वह सभी लोग एन ओ आई एस के तहत होने वाली ट्रेनिंग में शामिल होने गए थे। 15 दिवसीय ट्रेनिंग से वापस अपने घर आ रहे थे। जहां रास्ते में हादसा हो गया। घटना की जानकारी मिलते ही मृतक परिजनों के घर में कोहराम मच गया। 15 दिनों के बाद ट्रेनिंग से वापस आ रहे हैं परिजनों के इंतजार में घरवाले बैठे थे। जहां उनकी मौत की खबर घर पहुंची। जिनका का रो रो कर बुरा हाल हो गया। इस मौके पर थाना पुलिस द्वारा की गई राहत और बचाव कार्य आम लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गया। जहां पुलिस ने घायलों को तत्परता के साथ स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned