मौसेरे भाई व उसके दोस्त ने बहन के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस भी नहीं दे रही साथ

मौसेरे भाई व उसके दोस्त ने बहन के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस भी नहीं दे रही साथ
Gang rape

Shatrudhan Gupta | Publish: Oct, 30 2017 10:11:56 PM (IST) | Updated: Oct, 30 2017 10:40:22 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

सियाराम और राम स्वरूप ने कट्टा लगाकर उसकी मां को रोक लिया और उसे दिलीप और रवि उठाकर धान की खेत में ले गए।

उन्नाव. रिश्ते में मौसेरे भाई व उसके दोस्त ने सगी मौसी की लड़की के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस नहीं लिख रही केसरिश्ते में मौसेरे भाई व उसके दोस्त ने अपनी सगी मौसी की लड़की के साथ मुंह काला किया। इस दरम्यान दुष्कर्मी का बाप व एक अन्य नाबालिग लड़की की मां को कट्टे की नोक पर धमका रखा था। इसी बीच किशोरी द्वारा चिल्लाने पर आस-पास के ग्रामीण घटना स्थल की ओर दौड़े तो आरोपी लड़की को छोड़कर भाग निकले।

ग्रामीणों ने घटना की जानकारी डायल 100 पर दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची डालय 100 पुलिस ने पीडि़ता और उसकी मां को अपनी गाड़ी में बैठाकर उसके घर पर छोड़ा और कहा, आज थानाध्यक्ष छुट्टी पर हंै। मामला भी गंभीर है, इसलिए कल सुबह थाना आ जाना। कार्रवाई होगी। उसके बाद से लगातार महिला और किशोरी थाने के चक्कर लगा रही हंै, लेकिन पुलिस उनकी एक नहीं सुन रही है।

इस संबंध में बातचीत करने पर थाना अध्यक्ष औरास ने बताया कि इसके पूर्व भी दोनों महिलाएं इस प्रकार का मुकदमा दर्ज कराकर पैसे वसूल चुकी हंै। उन्होंने बताया कि इसके पूर्व इसी परिवार की एक लड़की ने इसी प्रकार का कार्य करके लोगों से वसूली कर चुकी है। थानाध्यक्ष का कहना है कि तथाकथित आरोपी को थाने पर बुलाया गया गया है और पीडि़त से तहरीर मांगी गई है। तहरीर मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

उधार में दिए 50000 लेने गई थी

पीडि़ता ने बताया कि विगत 27 अक्टूबर की शाम साइकिल से वह अपनी मौसी निवासी सहदोई थाना औरास से वापस लखनऊ मलिहाबाद अपने गांव जा रही थी। उसके साथ उसकी मां भी साइकिल पर थी। वह स्वयंबर खेड़ा के पास पहुंची ही थीं कि दो मोटर साइकिल से आए चार लोगों ने रास्ता रोक लिया। रोकने वालों में राम स्वरूप, सियाराम, रवि पुत्र राम स्वरूप, दिलीप पुत्र सियाराम निवासी सहदोई औरास शामिल हैं। सियाराम और राम स्वरूप ने कट्टा लगाकर उसकी मां को रोक लिया और उसे दिलीप और रवि उठाकर धान की खेत में ले गए, जहां आरोपियों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। इसी बीच आवाज सुन कर ग्रामीण दौड़े तो आरोपी उसे छोड़कर भाग निकले। ग्रामीणों ने तुरंत 100 नम्बर पर पुलिस को जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे गांव छोड़ दिया और कहा कि सुबह आना। पीडि़ता 28 अक्टूबर से थाने के चक्कर काट रही है, लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही। पीडि़ता की मां ने बताया कि उसने अपने बहनोई को 50,000 रुपए उधार दिए थे। बकाया पैसा लेने वह गई थी, लेकिन बहनोई ने पैसे नहीं दिए। जिसके बाद वहां से अपनी बेटी के साथ साइकिल पर बैठकर वापस अपने घर आ रही थी, जहां रास्ते में यह घटना घटी।

पुलिस ने कहा, आरोपी के खिलाफ की जाएगी कानूनी कार्रवाई

इस संबंध में थाना पुलिस ने बताया कि दोनों पक्षों को बुलाया गया है। थानाध्यक्ष औरास ने बताया कि पीडि़ता पहले भी मुकदमा लिखवाकर लोगों से पैसे ऐंठ चुकी है। थानाध्यक्ष के मुताबिक इसके पूर्व बड़ी बहन ने इसी प्रकार का कार्य करके लोगों से वसूली कर चुकी हैं। अब वह सिंदूर लगाकर घूम रही है। दोनों पक्षों को बुलाया गया है। तहरीर मांगी गई है। तहरीर मिलने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned