प्रेमी को बचाने के लिए युवती ने लगाया पिता-भाई सहित 10 पर सामूहिक गैंगरेप का आरोप

- महिला थाना प्रभारी ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर किया मामले का खुलासा

- प्रेमी ने कबूला

By: Narendra Awasthi

Published: 15 Sep 2020, 06:09 PM IST

उन्नाव. प्रेमी को बचाने की लड़की किस हद तक गिर सकती है का ताजा उदाहरण उस समय सामने आया। जब महिला थाना प्रभारी ने गैंग रेप की घटना का खुलासा करते हुए मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। घटना के संबंध में बताया गया कि शादी की 17 दिनों के बाद ही युवती ने बच्चा जना था। जिससे उसकी ससुराल में हड़कंप मच गया। महिला ने अपने पिता और भाई सहित गांव के 10 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाते हुए मुकदमा पंजीकृत कराया था। विवेचना के दौरान जानकारी मिली कि युवती का शादीपुर प्रेम संबंध था। जिसके साथ उसके अवैध संबंध भी थे। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर रिमांड पर लेने के लिए न्यायालय भेज दिया है।

सदर कोतवाली क्षेत्र का मामला

महिला थाना प्रभारी इंद्रपाल सिंह ने बताया कि लगभग 9 माह पूर्व दिसंबर 2019 महिला थाना में अभियोग पंजीकृत कराया गया था।।जिसमें पीड़िता की तरफ से बताया गया था कि उसके पिता-भाई सहित 10 लोगों ने उसके साथ गैंग रेप किया है। उन्होंने बताया कि विवेचना के दौरान जानकारी मिली की शादी की खूबसूरती के लखनऊ बंथरा निवासी दिलीप कुमार के साथ अवैध संबंध थे। जिससे वह गर्भवती हो गई थी। उसकी शादी सदर कोतवाली क्षेत्र के शेखपुर नरी निवासी के साथ हुई थी। शादी के 17 दिन के बाद ही उसके बच्चा हो गया था। इस संबंध में महिला ने पिता, भाई सहित 10 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376डी के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया था।

महिला थाना प्रभारी ने बताया

महिला थाना प्रभारी इंद्रपाल सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर मुख्य आरोपी दिलीप कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ के दौरान बताया कि युवती के साथ उसके 2 वर्ष पूर्व से अवैध संबंध है। इसी दौरान वह गर्भवती हो गई। गर्भवती होने के बाद युवती के माता-पिता ने उसकी शादी सदर कोतवाली क्षेत्र के शेखपुर नरी में कर दी। जहां 14 दिन के बाद ही महिला ने एक मासूम को जन्म दिया। डीएनए परीक्षण में बच्चा दिलीप कुमार का पाया गया। इंद्रपाल सिंह ने बताया कि आरोपी दिलीप कुमार को अदालत में रिमांड के लिए पेश किया जा रहा है। पकड़ने वाली टीम में पायल सेंगर नीरज, दीक्षित यादव, अमर सिंह आदि शामिल है

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned