तकिया मेला गंगा जमुनी संस्कृति का प्रतीक - हृदय नारायण दीक्षित

तकिया मेला गंगा जमुनी संस्कृति का प्रतीक - हृदय नारायण दीक्षित

Nitin Srivastva | Publish: Dec, 08 2017 07:23:36 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

विधानसभा अध्यक्ष के साथ विधायक, जिला अधिकारी और पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में हुआ तकिया मेले का शुभारंभ...

उन्नाव. तकिया मेला गंगा जमुनी संस्कृति का प्रतीक हैं। हमें समाज में ऐसे लोगो के पदचिन्हों एवं उनके विचारों को अनुश्रवण कर समाज में एक ऐसी परम्परा बनानी चाहिये। जिससे हिंन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल समाज में कायम रहे। हमें धर्म जाति एवं भेद-भाव को भुलाकर समाज में उन लोगो की मदद की जाये जिन्हे सरकार की योजनाओं का पूरा लाभ नही मिल पा रहा है। बीघापुर के अन्तर्गत हिन्दू-मुस्लिम एकता व साम्प्रदायिक सौहार्द का प्रतीक सुप्रसिद्ध तकिया मेला का शुभारम्भ के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में आए अध्यक्ष विधान सभा उ.प्र. हृदय नारायण दीक्षित उक्त विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर सामाजिक सद्भावना के प्रतीक के रूप में श्री सहस्त्र लिंगेश्वर की पूजा अर्चना की गई व बाबा अजहर मोहब्बत शाह की मजार पर चादरपोशी की गई। इस मौके पर पुलिस विभाग द्वारा नारी सुरक्षा जागरूकता गोष्ठी में नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया।

 

 

दूर- दूर से आकर लोग प्राप्त करते हैं आशीर्वाद

सामाजिक सद्भावना की प्रतीक श्री शाह-सहस्र - लिंगेश्वर व बाबा अजहर मोहब्बत शाह एवं सामाजिक सद्भावना एवं नारी सुरक्षा जागरूकता संगोष्ठी जनसभा को सम्बोधित करते हुये विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि कि इस मेले में सभी धर्मो के लोग दूर दूर से आकर दोनो धार्मिक स्थलों पर जाकर आर्शीवाद प्राप्त करते हैं। जो एक दूसरे को जोड़ने का काम करते हैं। हमें भी उन्हे विकास की मुख्य धारा में जोडने का प्रयास करना चाहिए। यह हम सभी का कर्तव्य है। उन्होने कहा कि अनेकता मे एकता यही भारत की विषेशता है। सुरक्षित और सशक्त हो नारी हो यह है हम सबकी जिम्मेदारी का एहसास कराते हुए श्री दीक्षित ने कहा कि समाज में नारी का सम्मान सभी को करना चाहिये। नारी दो परिवारों के मेल मिलाप कराने में अहम भुमिका अदा करती है। इस अवसर पर बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, हसनगंज विधायक बृजेश रावत ने भी अपने अपने विचार व्यक्त किया।


नारी सुरक्षा जागरूकता पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन

इसके पूर्व अध्यक्ष विधान सभा हृदय नारायण दीक्षित, जिलाधिकारी रवि कुमार एनजी, पुलिस अधिक्षक पुष्पांजली, मेलाधिकारी उप जिलाधिकारी बीघापुर प्रदीप कुमार आदि द्वारा मजार पर चादरपोशी की गई उसके बाद सहस्त्र लिंगेश्वर महादेव की पूजन अर्चना किया गया। इस मौके पर पुलिस विभाग की ओर से नारी सुरक्षा जागरूकता संगोष्ठी एवं नुक्कड नाटक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। समारोह के दौरान मो. असरफ थानाध्यक्ष विहार सहित काफी संख्या में गणमान्य व्यक्ति एवं क्षेत्रीय जनता एवं मेला में उपस्थित थे।

Ad Block is Banned