गेहूं और सरसों की बर्बादी देख किसानों के होश उड़े, भारतीय किसान यूनियन ने मुआवजा देने की मांग की

- मूसलाधार बारिश और आसमान से गिरे ओला से किसानों को हुआ काफी नुकसान

By: Narendra Awasthi

Published: 07 Mar 2020, 04:32 PM IST

उन्नाव. विगत 2 दिनों से हो रही बारिश ने किसानों की कमर तोड़कर रख दी। उनकी खड़ी फसल भारी बरसात के कारण बर्बाद हो गई। जिसके अब खड़े होने की कोई उम्मीद नहीं है। किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष शैलेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि किसानों को पहले अन्ना जानवरों ने और अब मौसम की मार ने बुरी तरह तबाह करके रख दिया है। उन्होंने कहा कि ईमानदारी से शासन प्रशासन को किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देना चाहिए।

 

ओला और बारिश ने किसानों को कहीं का नहीं छोड़ा

इधर 2 दिनों से हो रही बूंदाबांदी के बाद बीती रात जोरदार बारिश के साथ बड़े-बड़े ओले भी गिरे। जिससे गेहूं और सरसों की खड़ी फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई। फसल जमीन पर बिछ गई। फतेहपुर 84, सफीपुर, उन्नाव, सरोसी सहित जनपद के विभिन्न हिस्सों में बड़े-बड़े ओले गिरे बताया जाता है। उन्होंने सीमेंट की सीटों को भी नुकसान पहुंचाया। ओला बारिश से किसानों कि मेहनत पर पूरी तरह से पानी फिर गया। खेत देखकर किसानों का कलेजा मुंह को आ गया।

इस संबंध में भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष डॉ शैलेंद्र प्रताप सिंह ने कहा -

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned