जब कोई ग्रह केंद्र और त्रिकोण, दोनों का स्वामी होता है, उसे योग कारक ग्रह कहते - शंकर दयाल त्रिवेदी

Narendra Awasthi

Updated: 12 Oct 2019, 12:27:42 PM (IST)

Unnao, Unnao, Uttar Pradesh, India

उन्नाव. जब कोई ग्रह केंद्र और त्रिकोण के दोनों का स्वामी होता है, उसे योग कारक ग्रह कहते हैं। योग कारक ग्रहों के प्रभाव के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी देते पंडित शंकर दयाल त्रिवेदी -

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned