कोविड-19 कोरोना वायरस कि लगातार दो दिन में संख्या बढ़ने से हड़कंप, बनाया गया हॉटस्पॉट

- क्वॉरेंटाइन अवधि के पहले ही घर जाने पर कोतवाली को दिया कार्रवाई के लिए तहरीर

- अवर अभियंता के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद जिला पंचायत कार्यालय को भी किया गया बंद

By: Narendra Awasthi

Published: 02 Jun 2020, 10:05 PM IST

उन्नाव. जनपद में लगातार 2 दिन में कोविड-19 पॉजिटिव आने के बाद प्रशासनिक हलके में हड़कंप मच गया है। सुमेरपुर विकासखंड के गांव गौरा और बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र का मोहल्ला मस्तु टोला में आज 3 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। जबकि विगत सोमवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के कब्बा खेड़ा मोहल्ले में स्थित गेस्ट हाउस में पॉजिटिव केस आने के बाद पूरे रिया को सील कर दिया गया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि हॉटस्पॉट एरिया से किसी प्रकार की आवागमन की इजाजत नहीं है। किसी चीज की आवश्यकता की पूर्ति के लिए जिलाधिकारी ने मोबाइल नंबर फोन नंबर जारी किए हैं। इसके साथ ही बांगरमऊ विकासखंड का मस्तु टोला व सुमेरपुर विकासखंड का गांव गौरा को भी हॉटस्पॉट घोषित किया गया है और 500 मीटर की रेंज को पूरी तरह सील कर दिया गया है। गौरतलब है अरोरा रिसोर्ट सेंटर ओम प्रभारी बनाए गए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अवर अभियंता कोरोना पॉजिटिव आने के बाद प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मचा है। अवर अभियंता के करोना पॉजिटिव आने के बाद संपर्क में आने वाले अधिकारियों की नींद उड़ी है।

 

कब्बा खेड़ा हुआ हॉटस्पॉट

जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने बताया कि गृह मंत्रालय भारत सरकार के आदेश कोविड-19 महामारी के रोकथाम के संबंध में देशव्यापी लॉक डाउन 01 जून से 20 जून 2020 तक प्रभावी रहने हेतु दिशा निर्देश निर्गत किए जाने के क्रम में बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष कुमार के अनुसार अजय कुमार पुत्र स्व. ओम प्रकाश गुप्ता (53) वर्तमान में आवास अरोरा रिसार्ट कब्बाखेड़ा थाना कोतवाली सदर विगत 1 जून को कोविड-19 के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। अतः इनके आवास को जीरोइंग कराते हुए संबंधित मोहल्ला कब्बाखेड़ा को हॉटस्पॉट चिन्हित किया जाता है। जिसकी पूरी सीमा में पूर्णतः बैरिकेडिंग कराने का अनुरोध किया गया है। कंटेंटमेंट एक्टिविटी में मोहल्ला कब्बाखेड़ा को सम्मिलित किया गया है।

 

जिला पंचायत को सैनिटाइज करने का निर्देश

साथ ही साथ जिला पंचायत कार्यालय एवं अरोरा रिसार्ट कब्बाखेड़ा को पूर्णतः सेनिटाईज कराकर 24 घण्टे बन्द रखने के उपरान्त ही इनको प्रयोग में लाया जा सकता है। आदेश का उल्लंघन उपरोक्त अधिसूचना के प्रस्तर. 15 (पन्द्रह) में प्रदत्त व्यवस्था के अनुसार भारतीय दंड संहिता (अधिनियम संख्या-45 सन 1850) धारा-188 के अधीन दंडनीय कोई अपराध किया समझा जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा किसी अपरिहार्य स्थिति में उक्त अधिसूचित क्षेत्र का कोई भी व्यक्ति चिकित्सा विभाग के कंट्रोल रूम नंबर. 0515 2840512 अथवा इंट्रीगेटेड राहत कंट्रोल रूम नंबर. 0515 2820707 अथवा डॉ आशुतोष कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी 8005192700 से संपर्क कर सकते हैं। जिलाधिकारी ने कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए रवि वर्मा, चकबन्दी अधिकारी, सदर उन्नाव को मजिस्ट्रेट के रूप में नामित किया जाता है।

क्वाॅरेटाइन अवधि के पूरा करने के पूर्व चले जाने पर कि गई विधिक कार्यवाही

नोडल अधिकारी अनिल सिंह ने बताया कि मोहल्ला आदर्श नगर शनि देव मंदिर वाली गली में फूल सिंह पुत्र नन्हा सिंह का निरीक्षण के दौरान बताया गया कि बगैर सूचना दिये अचलगंज चला गया। 21 दिन क्वाॅरेटाइन दिन न पूरे होने के कारण फूल सिंह द्वारा जानबूझकर नियमों की अनदेखी कर समाज के साथ विश्वासघात किया गया है। अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद ने सदर कोतवाली में उचित कार्यवाही करने हेतु पत्र भेजा है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned