लोकसभा चुनाव 2019 - वीवी पैट की होगी रैण्डम मतगणना, 25-25 गड्डियां बना पोस्टल बैलट की भांति होगी गणना

वीवीपैट पर्चियों की गणना पोस्टल बैलट की भांति होगी, बनाई जाएगी 25 - 25 की गड्डियां, मतगणना में नहीं ले जा सकेंगे मोबाईल

 

By: Narendra Awasthi

Published: 22 May 2019, 08:47 PM IST

उन्नाव. जिलाधिकारी देवेंद्र कुमार पांडे ने वीवी पैट की पर्चियों की गणना के विषय में चर्चा करते हुए बताया कि कुछ निम्न परिस्थितियों में विवि पैट पर्चियों की गणना की जाएगी। यदि कंट्रोल यूनिट द्वारा तकनीकी कारणों से परिणाम उपलब्ध नहीं हो पाते हैं, तब मतगणना में किसी प्रकार की विषम स्थिति उत्पन्न होने की दशा में आर0ओ0 के निर्देशों पर मिलान कराने की स्थिति में, मॉकपोल के पश्चात सी0आर0सी0 नहीं किए गए ई0वी0एम0 के मतों की गणना के संबंध में, प्रत्येक विधानसभा से 5-5 वी0वी0पैट के (रैण्डम) मतगणना हेतु उन्होंने बताया कि सर्वप्रथम वी0वी0पैट के स्लिप कम्पार्टमेण्ट की सील को तोड़कर पर्चियां निकाल ली जाएंगी। वी0वी0पैट की पहचान संबंधी 07 पर्चियां अलग कर शेष पर्चियों की 25-25 गड्डियां बनाकर पोस्टल बैलट की भांति गणना की जाएगी।

विधानसभा वार लगाई गई टेबल में से एक टेबल वी0वी0पैट स्लिप की गणना हेतु प्रयोग में लाई जाएगी। जिस पर क्रमशः 1-1 बूथ के वी0वी0 पैट की पर्चियों की गणना की जाएगी। गणना के उपरांत पर्चियों की बनी हुई गड्डियों को पुनः वी0वी0 पैट के स्लिप कंपार्टमेंट में रखकर ऐडेस टैग से सील कर दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने बताया कि मतगणना के पश्चात वोटिंग मशीनों को पुनः मुहर बंद करना होगा एवं कंट्रोल यूनिट के ‘अभ्यर्थी सेट सेक्शन‘ से बैटरी को हटाया जाएगा। बैटरी हटाने के बाद अभ्यर्थी सेट सेक्शन के आवरण को पुनः मुहर बंद कर दिया जाएगा।

प्रशिक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मतदान केंद्रों में डाले गए मतों की गणना के विषय में चर्चा करते हुए बताया कि गणना हेतु कंट्रोल यूनिट को मतपत्र लेखा 17सी0 भाग-1 (डाले गए मतों का लेखा) के साथ टेबल पर लाया जाएगा। कैरिंग केस से सीलों को हटा दें व कंट्रोल यूनिट को बाहर निकाल लें अभ्यर्थियों/ अभिकर्ताओं द्वारा सीलों के निरीक्षण के लिए कंट्रोल यूनिट को टेबल पर रखें। कैरिंग केस से बाहर निकालने के बाद सावधानी पूर्वक जांच करलें कि यह मतदान केन्द्र पर भेजी गई कंट्रोल यूनिट ही हो, कैंडिडेट सेट सेक्शन पर सील लगी हो, रिजल्ट सेक्शन पर ए0बी0सी0डी0 स्ट्रिप सील व स्पेशल टैग लगा हो तथा कंट्रोल यूनिट पर लगी पिंक पेपर सील की क्रम संख्या जांच लें। यह भी सुनिश्चित कर लें कि ग्रीन पेपर सील बरकरार हो तथा पीठासीन अधिकारी द्वारा तैयार मतपत्र लेखा-17सी0 के भाग-1 के मद संख्या-10 में दर्ज सील के नम्बर से मेल खाता हो।

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 की मतगणना को सुचारू एवं सुव्यवस्थित तरीके से संपन्न कराए जाने हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान सामान्य प्रेक्षक विधानसभा- सफीपुर, बांगरमऊ, मोहान डॉक्टर विनीत एस0 एवं सामान्य प्रेक्षक विधानसभा-भगवन्तनगर, पुरवा, उन्नाव रोहित गुप्ता, प्रभारी अधिकारी कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी प्रेम रंजन सिंह आदि मौजूद थे। संपूर्ण कार्यक्रम में सहायक प्रभारी प्रशिक्षण अधिकारी जय सिंह, अवर अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, दुर्गेश प्रताप सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी, अलख निरंजन मिश्रा, जिला समाज कल्याण अधिकारी, डीसी मनरेगा, सम्बंधित उपस्थित थे।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned